iran11

iran11

ईरान ने पश्चिम को मिसाइलों को अपग्रेड करने की धमकी दी है. ईरान ने कहा कि वह अपनी मिसाइलों को अपग्रेड कर उनकी रेंज में बढ़ोतरी करेगा ताकि यूरोप के शहर भी इन मिसाइलों की रेंज में आ सके.

रिवॉल्यूशनरी गार्ड्स के डेप्युटी हेड ब्रिगेडियर जनरल हुसैन सलामी ने कहा, ‘यदि हमने मिसाइलों की सीमा को 2,000 किलोमीटर की रेंज से कम रखा है तो इसकी वजह तकनीक की कमी नहीं है बल्कि रणनीतिक कारणों से ऐसा किया गया है.’

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

उन्होंने कहा, ‘अब तक हम मानते रहे हैं कि यूरोप हमारे लिए खतरा नहीं है, इसलिए हमने मिसाइलों की रेंज को बढ़ाने पर काम नहीं किया. लेकिन, यूरोप हमारे लिए खतरे में तब्दील होता है तो हम अपने मिसाइलों की रेंज को बढ़ाएंगे.’

ध्यान रहे ईरान के बलिस्टिक मिसाइलों की रेंज में अमेरिका और इजरायल तक है. पिछले महीने ईरान के रिवॉल्यूशनरी गार्ड्स मिलिट्री फोर्स के मेजर जनरल मोहम्मद अली जाफरी ने कहा था कि हमारा 2,000 किलोमीटर तक का मिसाइल ज्यादातर अमेरिकी हितों और बलों को निशाना बनाने में सक्षम हैं. इसलिए हमें इसे बढ़ाने की बहुत ज्यादा जरूरत नहीं है.

जाफरी के अनुसार, बलिस्टिक मिसाइलों की रेंज को देश के शीर्ष नेता अयातुल्लाह अल खुमैनी के आदेश पर निर्धारित किया गया है.