trumpescalatestension

सयुंक्त राष्ट्र महासभा में यमन और तुर्की की और से फिलिस्तीन के समर्थन में जेरुसलम पर लाये गए प्रस्ताव पर वोटिंग करने वाले देशों को अमेरिका ने एक बार फिर से सबक सिखाने की धमकी दी हैं.

अमरीकी विदेश मंत्रालय की अधिकारी जूलिया मेसन ने धमकी देते हुए कहा कि जिन देशों ने फिलिस्तीन के समर्थन और इजरायल-अमेरिका के विरोध में वोटिंग दी. उन देशो की आर्थिक मदद रोक दी जायेगी.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

मैसन ने कहा कि राष्ट्रपति ट्रम्प की एक टीम ने एेसे देशों के विरुद्ध विकल्पों के बारे में सोंच लिया है जिन्होंने सुरक्षा परिषद में अमरीकी प्रस्ताव के विरोध में मतदान किया था.

ध्यान रहे अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के जेरुसलम को इजरायल की राजधानी घोषित करने के फैसले के विरुद्ध में लाये गए प्रस्ताव का 128 देशों ने समर्थन किया था.

इस वोटिंग के दौरान अमेरिका को केवल 9 देशों का साथ मिला था. जबकि  35 देशों ने मतदान में भाग ही नहीं लिया था. ये वोटिंग ऐसे समय में हुई थी जब ट्रम्प प्रशासन अमेरिका के खिलाफ जाने वाले देशों को सबक सिखाने की धमकी पहले ही दे चूका था.