Thursday, October 28, 2021

 

 

 

18 अक्टूबर से 250,000 जायरीनों को मिलेगी उमराह की इजाजत

- Advertisement -
- Advertisement -

18 अक्टूबर से सऊदी अरब के भीतर से 250,000 जायरीनों को उमराह की इजाजत मिल जाएगी। यह कदम कोरोनोवायरस के कारण अस्थायी रूप से बंद होने के बाद, मक्का और मदीना में फिर से शुरू किए गए उमराह को लेकर आया है।

हज और उमराह के लिए राष्ट्रीय समिति के सदस्य हानी अल-ओमेरी ने मंगलवार को नीति और अन्य परिवर्तनों की घोषणा करते हुए कहा, मस्जिद ए नबवी में हुजूर के रोजे की जियारत की इजाजत दी जाएगी।  उन्होंने कहा कि 600,000 से अधिक लोगों को मस्जिद ए हरम में इबादत करने की अनुमति दी जाएगी।

उमराह करने के लिए जायरीनो को Eatmarna application पर आवेदन कर परमिट के लिए पंजीकरण करना होगा। अब तक, केवल सऊदी अरब और स्थानीय निवासियों को मक्का और मदीना में दोनों पवित्र मस्जिदों का दौरा करने की अनुमति दी गई है।

हालांकि, अल-ओमेरी ने पिछली घोषणा की कि विदेशी जायरीनों को 1 नवंबर से यात्रा करने की अनुमति दी जाएगी।उन्होंने कहा कि अधिकारियों को उम्मीद है कि जल्द ही उन देशों को जायरीनों को उमराह करने के लिए भेजने की अनुमति दी जाएगी।

वर्तमान में पहले चरण के तहत केवल 6,000 जायरीनों को ही प्रतिदिन उमराह करने की अनुमति दी गई है। जायरीनों के प्रत्येक छोटे समूह अनुष्ठान पूरा करने के लिए केवल तीन घंटे दिए जाते हैं, और किसी को भी काबा और काले पत्थर के पास जाने की अनुमति नहीं है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles