iran

संयुक्त राष्ट्र संघ की सुरक्षा परिषद में फिलिस्तीन की जमीन पर कब्ज़ा करने के लिए इजराइल की अवैध बस्तियों के निर्माण के खिलाफ पारित हुए प्रस्ताव का ईरान और तुर्की ने स्वागत किया हैं.

ईरान के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने इस बारें में कहा कि फिलिस्तीनी क्षेत्रों में यहूदी बस्तियों के निर्माण की ज़ायोनी शासन की नीति समस्त अतंरराष्ट्रीय नियमों के विपरीत है और ईरान ने बार-बार इस बात पर जोर दिया है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

उन्होंने आगे कहा कि कुछ बड़ी शक्तियों द्वारा इस्राईल के समर्थन में हस्तक्षेप और वीटो अधिकार के इस्तेमाल के लंबे अतीत के बावजूद  संयुक्त राष्ट्र संघ की सुरक्षा परिषद में इस प्रस्ताव का पारित होना, इस्राईल के अतिग्रहण के अंत और फिलिस्तीनियों के अधिकारों की रक्षा के लिए विश्व समुदाय के संकल्प को दर्शाता है हालांकि अनुभवों से यह सिद्ध हो चुका है कि ज़ायोनी शासन किसी भी अंतरराष्ट्रीय समझौते या नियम का प्रतिबद्ध नहीं रहा है.

वहीँ तुर्की विदेश मंत्रालय की और से बयान जारी कर कहा गया कि सुरक्षा परिषद का प्रस्ताव, विश्व समुदाय की संयुक्त नीति का सूचक है, एकबार फिर इस्राईल से मांग की गई है कि वह पूर्वी बैतुल मुक़द्दस और पश्चिमी तट में यहूदी काॅलोनियों का निर्णमा फ़ौरन बंद कर दे.

Loading...