Wednesday, June 23, 2021

 

 

 

सांसद ने भारत के किसान आंदोलन पर पूछा था सवाल, ब्रिटिश पीएम ने दिया पाकिस्तान पर जवाब

- Advertisement -
- Advertisement -

लंदन: ब्रिटेन की संसद में बुधवार को भारत में किसानों के आंदोलन (Farmers Protest) को लेकर प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन (Boris Johnson) से सवाल किया गया। ब्रिटिश सिख लेबर सांसद तनमनजीत सिंह देसी ने हाउस ऑफ कॉमन्स में साप्ताहिक प्राइम मिनिस्टर्स क्वेश्चन (PMQs) सत्र में भारत के किसानों का मुद्दा उठाया।

इस दौरान शायद जॉनसन पूरी तरह से इस मामले से अंजान रहे और उन्होने जो जवाब दिया उसने सभी हैरान कर दिया। उन्होने अपनी संक्षिप्त टिप्पणी में कहा कि भारत-पाकिस्तान के बीच का कोई मुद्दा है और कहा कि दोनों देशों को द्विपक्षीय बातचीत के ज़रिए सुलझाना चाहिए।

जॉनसन ने कहा, ‘हमारा विचार यह है कि निश्चित रूप से भारत और पाकिस्तान के बीच जो कुछ भी हो रहा है, उसके बारे में हम बेहद चिंतित हैं, लेकिन ये दोनों सरकारों के लिए महत्वपूर्ण है. मैं जानता हूं कि वे इन बिंदुओं की सराहना करेंगे।’

हालांकि विपक्षी सांसद तनमनजीत सिंह देसी ने का सवाल था कि ‘पंजाब या भारत के अन्य हिस्सों से आने वाले सांसदों समेत मैं भी किसानों के शांतिपूर्ण प्रदर्शन पर वॉटर कैनन, आंसू गैस और पुलिस बल के प्रयोग की फुटेज देखकर काफी भयभीत था। हालांकि, यह देखना बहुत शानदार था कि कई किसानों ने उन लोगों को खाना खिलाया जिन्हें उन्हें दबाने का आदेश दिया गया था।’

उन्होंने ब्रिटिश पीएम जॉनसन से आगे कहा, ‘तो, क्या प्रधानमंत्री (जॉनसन) भारतीय प्रधानमंत्री (नरेंद्र मोदी) को हमारी गहरी चिंताओं से अवगत कराएंगे। हम उम्मीद करते हैं कि मौजूदा गतिरोध का शीघ्र समाधान निकलेगा और क्या वह इस बात से सहमत हैं कि हर किसी को शांतिपूर्ण विरोध का मौलिक अधिकार है।’

इस मामले में अब ब्रिटेन सरकार की सफाई आई है। ब्रिटेन की ओर से जारी बयान में कहा गया कि प्रधानमंत्री सवालों को ठीक से सुन नहीं पाए। ब्रिटेन की सरकार भारत में किसानों के विरोध के महल पर नज़र बनाए हुए है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles