Thursday, October 21, 2021

 

 

 

चीन के खिलाफ अंतर्राष्ट्रीय न्यायालय पहुंचा उईगर समूह, US ने भी लगाया तीन चीनी अधिकारियों पर बैन

- Advertisement -
- Advertisement -

चीन के शिनजियांग प्रांत में उइगर मुस्लिमों का मानवाधिकार हनन जारी है। ऐसे में अब न्याय के लिए उईगर मुसलमानों के दो संगठनों ईस्ट तुर्किस्तान गवर्नमेंट इन एक्जाइल (ETGE) और ईस्ट तुर्किस्तान नेशनल अवेकेनिंग मूवमेंट (ETNAM) ने चीन की कम्यूनिस्ट सरकार के खिलाफ अंतर्राष्ट्रीय न्यायालय का दरवाजा खटखटाया है।

न्यूयॉर्क टाइम्स की एक रिपोर्ट के अनुसार, लंदन के वकीलों की एक टीम इन उईगर मुसलमानों के मामले की इंटरनेशनल कोर्ट में पैरवी करेगी। केस दाखिल करने वाले उईगर मुस्लिम संगठनों का कहना है कि चीन द्वारा हजारों की संख्या में उईगर मुसलमानों को कंबोडिया और ताजिकिस्तान से गिरफ्तार कर वापस लाया जा रहा है, जहां उन्हें गैरकानूनी तरीके से डिटेंशन कैंप्स में रखा जा रहा है।

वहीं दूसरी और अमेरिका ने भी चीनी कम्युनिस्ट पार्टी (Chinese Communist Party) के तीन वरिष्ठ अधिकारियों पर प्रतिबंध लगा दिया है। अमेरिका ने जिन तीन अधिकारियों पर प्रतिबंध लगाया है उनमें शिनजियांग उइगर स्वायत्त क्षेत्र (XUAR) के चीनी कम्युनिस्ट पार्टी सचिव चेन क्वांगो (Chen Quanguo), शिनजियांग पोलिटिकल और लीगल कमेटी के सचिव झू हैलून (Zhu Hailun) और शिनजियांग पब्लिक सिक्योरिटी ब्यूरो के पार्टी सचिव वैंग मिंगशान (Wang Mingshan) शामिल हैं।

अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोंपियो के मुताबिक, चीन के इन तीनों नेताओं के अलावा इनके परिजन भी अब अमेरिका में प्रवेश नहीं कर पाएंगे। पोंपियो ने कहा कि संयुक्त राज्य अमेरिका आज शिनजियांग में भयावह दुर्व्यवहार के खिलाफ कार्रवाई कर रहा है। अमेरिका उन सभी राष्ट्रों का आह्वान करता है जो मानव अधिकारों और उइगर मुस्लिमों पर सीसीपी की ज्‍यादतियों के बारे में हमारी चिंताओं को साझा करते हैं और इस तरह के व्यवहार की निंदा करते हैं।

विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने इन प्रतिबंधों की घोषणा करते हुए कहा कि वह सीपीसी के अन्‍य अधि‍कारियों के खिलाफ भी वीजा प्रतिबंधों की घोषणा करते हैं जो हिरासती केंद्रों में उइगर मुस्लिमों एवं अन्‍य अल्‍पसंख्‍यकों के उत्‍पीड़न के लिए जिम्‍मेदार हैं। इन अधिकारियों के परिजनों को भी अब अमेरिका में प्रवेश से प्रतिबंधि‍त किया जाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles