संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) ने तुर्की, पाकिस्तान, ईरान, सीरिया और सोमालिया सहित 13 मुस्लिम-बहुल देशों के नागरिकों के लिए यात्रा और वर्क वीजा जारी करने पर रोक लगा दी है।

रॉयटर्स के अनुसार, यूएई (UAE) ने राष्ट्रीय सुरक्षा का हवाला देते हुए 18 नवंबर से वीजा जारी करने पर रोक लगाई गई है। इसमें अफगानिस्तान, सीरिया, यमन जैसे युद्ध में उलझे हुए देश भी शामिल हैं। इसके अलावा ये प्रतिबंध अल्जीरिया, केन्या, इराक, लेबनान और ट्यूनीशिया के नागरिकों पर भी लागू होता है।

अभी यह स्पष्ट नहीं है कि प्रतिबंधों में कोई एक्‍सेप्‍शनल छूट रहेगी या नहीं। इस बारे में यूएई के फेडरल अथॉरिटी फॉर आइडेंटिटी एंड सिटीजनशिप से संपर्क किया गया लेकिन इस पर तत्काल कोई टिप्पणी नहीं की गई।

पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने पिछले सप्ताह एक बयान में कहा था कि बैन सिर्फ विजिट वीजा तक सीमित है और संभवत: कोरोना की दूसरी लहर की आशंका को देखते हुए लिया गया है। हालांकि, अल-जजीरा में छपी एक रिपोर्ट में एक अधिकारी के हवाले से दावा किया गया है कि यूएई ने ये फैसला सुरक्षा कारणों से लिया है।

पाकिस्तान में एक रिक्रूटमेंट एजेंसी चलाने वाले सांसद अनवर बेग ने कहा, अगर इस बैन के पीछे कोरोना वजह होती तो भारत को भी इस सूची में शामिल किया जाता क्योंकि वहां दुनिया में सबसे ज्यादा केस आ रहे हैं। बेग ने कहा कि वर्क या एंप्लायमेंट वीजा का रद्द होना चिंताजनक है और ये बैन पाकिस्तान को टारगेट करते हुए लगाया गया है।

Loading...
विज्ञापन
अपने 2-3 वर्ष के शिशु के लिए अल्फाबेट, नंबर एंड्राइड गेम इनस्टॉल करें Kids Piano