irrr

irrr

ईरान की राजधानी तेहरान में सड़कों पर लाखों की संख्या में लोग प्रदर्शन कर रहे है. इस प्रदर्शन में अब तक दो लोगों की मौत हो चुकी है. गुरुवार से शुरू हुआ ये विरोध प्रदर्शन कई बड़े शहरों तक फैल गया है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

बढ़ती कीमतों के खिलाफ शुरू हुआ विरोध प्रदर्शन बढ़कर अब सरकारी नीतियों के खिलाफ और अधिक उग्र हो गया है. अब तक 52 लोगों को गिरफ्तार किया जा चूका है. प्रदर्शनकारियों ने गृह मंत्री की उस चेतावनी को नज़रअंदाज़ कर दिया जिसमें कहा गया था कि नागरिकों को ‘अवैध रूप से जुटने’ से बचना चाहिए.

प्रदर्शन के दौरान न केवलराष्ट्रपति रूहानी के खिलाफ ल्कि सर्वोच्च धार्मिक नेता अयातुल्ला खमनेई और धार्मिक शासन के खिलाफ भी नारेबाजी हुई. हालांकि ईरान के अधिकारी सरकार विरोधी प्रदर्शनों के लिए विदेशी ताक़तों को ज़िम्मेदार बता रहे हैं. ऑनलाइन जारी हुए एक वीडियो में कई लोग यह भी चिल्लाते नजर आ रहे हैं ‘सीरिया को छोड़ो, हमारी फिक्र करो.’

प्रदर्शनकारियों की मौत के लिए ईरान ने विदेशी एजेंट्स को जिम्मेदार बताया. लौरिस्तान प्रांत के गवर्नर ने कहा, न तो पुलिस और न ही सुरक्षा बलों ने प्रदर्शनकारियों पर गोली चलाई.

इस मामले में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने ट्वीट कर कहा: “दमनकारी शासन हमेशा के लिए सहन नहीं कर सकते हैं दुनिया देख रही है.’