राष्ट्रपति रेसेप तैयप एर्दोगन ने बुधवार को सभी आलोचनाओं को दरकिनार करते हुए बड़ी घोषणा की कि तुर्की जल्द ही इस्तांबुल के किनारे पर एक विशाल नहर के लिए एक टेंडर रखेगा और गर्मियों में इसके लिए जमीन तैयार करेगा।

कनाल इस्तांबुल परियोजना इस्तांबुल के ब्लैक सी को मारमार सागर से दक्षिण में जोड़ेगी और इसकी लागत 75 बिलियन लीरा (9.2 बिलियन डॉलर) है।

तुर्की सरकार का कहना है कि इससे बोस्फोरस स्ट्रेट पर यातायात में आसानी होगी और दुर्घटनाओं को रोका जा सकेगा। तुर्की ने पिछले महीने इस परियोजना के लिए विकास योजनाओं को मंजूरी दी।

लेकिन आलोचकों का कहना है कि यह पर्यावरण पर कहर बरपाएगा और ताजे जल संसाधनों को प्रदूषित करेगा।

अपनी सत्तारूढ़ एके पार्टी के सांसदों से “विपक्षी दलों और अन्य विरोधियों की आलोचना का जिक्र करते हुए एर्दोगन ने कहा कि आपको यह पसंद है या नहीं “तुर्की इस योजना के साथ आगे बढ़ेगा, और नहर को जोड़ा जाएगा।”