erdd

अमेरिका और तुर्की के रिश्ते बिगड़ते ही जा रहे है। तुर्की के राष्ट्रपति रजब तैयब एर्दोगान ने कहा है कि हम अब हरगिज़ अमरीका पर भरोसा नहीं करेंगे। इतना ही नहीं उन्होने रूस से ख़रीदी गई एस-400 मिसाइल के इस्तेमाल की भी बात कही।

तुर्क राष्ट्रपति ने कहा कि उनका देश रूस से ख़रीदी गई एस-400 मिसाइल ढाल व्यवस्था को ज़रूरत पड़ी तो प्रयोग करेगा। एर्दोगान ने कहा कि हमने यह व्यवस्था अपने शस्त्रागार में रखने के लिए ख़रीदी है लेकिन अगर ज़रूरत पड़ी तो इसे उचित ढंग से प्रयोग भी किया जाएगा।

उन्होने कहा कि हमने यह व्यवस्था जब ख़रीदी है तो इसका क्या किया जा सकता है इसे प्रयोग करना ही पड़ेगा क्योंकि यदि हमें इसे प्रयोग न करें तो क्या अमरीका पर भरोसा करें? बता दें कि एस-400 मिसाइल कि रूस से खरीद को लेकर अमेरिका ने कड़ी नाराजगी जाहीर कि है।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

trump congress

पिछले दिसम्बर महीने में तुर्की और रूस के बीच एस-400 मिसाइल का सौदा हुआ था। साथ ही ये भी समझौता हुआ था कि तकनीक का हस्तांतरण भी किया जाएगा और इस व्यवस्था को भविष्य में रूस की मदद से तुर्की के भीतर तैयार किया जाएगा।

जिसके बाद अमरीका के विदेश उपमंत्री वीस मिशल ने कहा था कि रूस से एस-400 ख़रीदने के कारण अब तुर्की को अमरीका से दिए जाने वाले एफ़-35 विमानों के रास्ते में रुकावटें आएंगी।

Loading...