संयुक्त अरब अमीरात के विदेश राज्य मंत्री अनवर गार्गश ने तुर्की के साथ की संबंध बहाली की पेशकश करते हुए कहा कि यूएई के पास तुर्की के साथ संघर्ष में रहने का कोई कारण नहीं है और अंकारा को मुस्लिम ब्रदरहुड को प्राथमिक रूप से पीछे छोड़ना होगा।

गार्गश ने स्काई न्यूज अरबिया को बताया, “हम तुर्की को बताना चाहते हैं कि हम इसके साथ सामान्य संबंध चाहते हैं जो आपसी संप्रभुता का सम्मान करते हैं।” उन्होंने कहा, “हमें तुर्की के साथ कोई समस्या नहीं है, जैसे सीमा मुद्दे या इस तरह के अन्य मुद्दे।”

यूएई विदेश मंत्री के इस बयान को तुर्की के एक वरिष्ठ अधिकारी ने तुर्की के साथ बेहतर संबंधों के लिए यूएई के एक “सकारात्मक” कदम के रूप में वर्णित किया। हालांकि अंकारा ने इसे घनिष्ठा के तौर पर नहीं लिया। दरअसल तुर्की अधिकारियों का मानना है कि यह पुष्टि करना पर्याप्त नहीं है कि अबू धाबी ने अपनी क्षेत्रीय नीतियों में परिवर्तन किया है, जिसने सीरिया, लीबिया और सोमालिया सहित कई मुद्दों पर सरकारों को संकट में डाल दिया है।

तुर्की के अधिकारी ने कहा कि यूएई ने हाल ही में कुछ अन्य सकारात्मक कदम उठाए हैं जिनका सार्वजनिक रूप से खुलासा या चर्चा नहीं की गई है। अधिकारी ने कहा, “वे हमारे व्यापारियों को बहुत कठिनाई देते थे – जो कि बदल गया है। अब उनका स्वागत किया जाता है”। “उन्होंने हमारे व्यवसायियों के लिए कुछ यात्रा प्रतिबंधों की भी घोषणा की, लेकिन उन्होंने इसका पालन नहीं किया।”

Loading...
विज्ञापन