787689

787689

तुर्की ने उत्तरी सीरिया में अपने सैकड़ों पुलिस और विशेष बलों को भेज दिया है, यह शहरी युद्ध के रूप में कुर्द मिलिटिया के खिलाफ बड़े हमले की तरफ संकेत किया जा रहा है. तुर्की की नवीनतम सैन्य तैनाती का उद्देश्य सीरिया के साथ अपनी सीमा पर एक सुरक्षित क्षेत्र बनाना है.

तुर्की बलों और उनके सीरियाई विद्रोही सहयोगियों ने 20 जनवरी को तुर्की ने सीरिया के उत्तर-पश्चिमी अफरीन प्रांत से पीकेके के सीरियाई संबद्ध समूह, डेमोक्रेटिक यूनियन पार्टी (पीवाईडी) और इसके सशस्त्र पीपुल्स प्रोटेक्शन यूनिट्स (वाईपीजी) को बाहर निकालने के लिए ऑपरेशन ओलिव ब्रांच शुरू किया था.

तुर्की के उप प्रधान मंत्री बेकिर बोज़दैग ने एनटीवी न्यूज़ चैनल को बताया, “विशेष बलों को नए शहरी युद्ध के लिए तैयार किया जा रहा है. उन्होंने कहा, ” युद्ध उन जगहों पर किया जाएगा जहां नागरिकों का सामना करना पड़ता है.” उन्होंने कहा कि विशेष बलों के समूह को आवासीय क्षेत्रों में आतंकवादियों से लड़ने का अनुभव करेंगे.

पुलिस और विशेष बल शहरी युद्ध के लिए गांवों में तैनात रहेंगे जो तुर्की सेना पहले ही जब्त कर रखी है. अंतर्राष्ट्रीय चेतावनियों को खारिज कर दिया गया है.

आफरीन क्षेत्र में ज़्यादातर बड़े शहरों में खुद आफरीन शहर भी शामिल है. जो वाईपीजी के नियंत्रण में रहता है और तुर्की सेनाओं का जल्द ही शहरी युद्ध शुरू हो सकता है.

राजनीतिक और हुर्रियत दैनिक स्तंभकार डेनिस जेरेक ने कहा, “क्षेत्र में युद्ध का एक नया चरण उभर रहा है. तुर्की राज्य मीडिया ने भी यह पुष्टि की कि तुर्की सेना ने सीरिया के आफरीन क्षेत्र के बाहरी किनारे पर कब्जा कर लिया है.

 

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?