q1

q1

क़तर संकट के बीच दोहा की यात्रा पर पहुंचे तुर्की राष्ट्रपति रजब तैयब एर्दोगान और क़तर अमीर तमीम बिन अहमद अल थानी की अध्यक्षता में दोनों देशों के बीच कई अहम समझौते हुए.

मंगलवार को देर रात कुवैत से क़तर पहुंचे एर्दोगान ने देशों की यात्रा शुरू की. इस दौरान दोनों देशों के बीच  केंद्रीय बैंकिंग, पर्यटन और न्यायिक शिक्षा पर समझौते हुए. बैठक में समझौते पर हस्ताक्षर करने से पहले उन्होंने कतरी अमीर तमीम बिन हमद अल-थानी से मुलाकात की.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

समझौतों में केंद्रीय बैंकिंग, पर्यटन और न्यायिक शिक्षा पर एक ज्ञापन शामिल है. इसके अलावा  “मैत्रीपूर्ण बंदरगाहों” और “आपराधिक विषयों” के साथ-साथ मीडिया, प्रौद्योगिकी और मानवीय सहायता मुद्दों पर सहयोग समझौते हुए.

ध्यान रहे जून में शुरू हुए खाड़ी संकट में तुर्की शुरू से ही क़तर का समर्थन करता आया, तुर्की ने क़तर का समर्थन ऐसी स्थिति में किया जब सऊदी अरब, मिस्र, बहरीन और यूएई ने आतंकवाद को बढ़ावा देने के आरोप में क़तर के साथ अपने रिश्तें खत्म कर लिए थे.

हालांकि क़तर इन आरोपों को ख़ारिज करता आया है. साथ ही क़तर ने अपनी संप्रभुता का हवाला देते हुए चारों देशों के सामने झुकने से इंकार कर दिया.

Loading...