Monday, July 26, 2021

 

 

 

लॉकडाउन का उल्लंघन कर रहे थे युवा, एर्दोगान ने लगाया तुर्की में कर्फ़्यू

- Advertisement -
- Advertisement -

तुर्की ने शुक्रवार को उपन्यास कोरोनावायरस के प्रसार को रोकने के लिए कई मजबूत नए उपायों की घोषणा की, जिसने दुनिया भर में हजारों लोगों को मा’र दिया है।

राष्ट्रपति रजब तैय्यप एर्दोगन ने, 20 वर्ष से कम आयु के जनता के कर्फ्यू को प्रतिबंधित करने की घोषणा की (जो 1 जनवरी, 2000 के बाद पैदा हुए), जब तक कि पूरी तरह से आवश्यक न हो।

उन्होंने इस्तांबुल सहित तुर्की के आबादी का लगभग पांचवाँ हिस्सा, साथ ही साथ राजधानी अंकारा, इज़मिर, बर्सा और अदाना के शहरी केंद्रों को छोड़कर, 31 प्रांतों में जाने या प्रवेश करने वाले वाहनों पर 15 दिनों के प्रतिबंध की घोषणा की।

राष्ट्रपति ने कहा कि दुकानों सहित भीड़-भाड़ वाले इलाकों में फेस-मास्क पहनना भी अनिवार्य है। उन्होंने कहा कि सड़कों सहित सभी खुले स्थानों में भीड़ जमा होने की अनुमति नहीं है।

एर्दोगन ने यह भी घोषणा की कि केवल तीन दिनों में, तुर्की के राष्ट्रीय एकजुटता अभियान में 300,000 से अधिक लोगों और संस्थानों ने तुर्की के राष्ट्रीय एकजुटता अभियान के लिए “हम आत्मनिर्भर हैं, तुर्की को दान कर दिया”।

अभियान का शुभारंभ इस सप्ताह के आरंभ में एर्दोगन ने किया था जब उन्होंने अपने वेतन के सात महीने कोष में दान कर दिए थे। उन्होंने कहा, “हमारे देश में चीजों को सामान्य स्थिति में लाना हमारे 83 मिलियन लोगों के हाथ में है।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles