तुर्की की एक अदालत ने 2016 में 15 जुलाई तख्तापलट के प्रयास में अपनी भूमिका के लिए पूर्व सैन्य पायलट को तीन आजीवन कारावास और 640 साल से अधिक की जेल की सजा सुनाई।

चार साल पहले नाकाम तख्तापलट के प्रयास के लिए मुख्यालय में सेवा देने वाले अकिंन एयरबेस के अधिकारियों के खिलाफ अदालत ने फैसला सुनाया है। जिसमे कई सैन्य अधिकारियों को आजीवन कारावास की सजा की सुनाई गई है। इन आधिकारियों में में पूर्व पायलट लेफ्टिनेंट मुस्तफा ओज़कान भी शामिल है।

तुर्की के संवैधानिक आदेश को उखाड़ फेंकने और पूर्व हत्या की कोशिश के आरोप में ओज़कान को 648 साल की सजा सुनाई गई। तख्तापलट की कोशिश के दौरान, ओजकान ने राजधानी अंकारा के ऊपर तेज गति से F-16 फाइटर जेट उड़ाया था।

इसके साथ ही उसने पुलिस मुख्यालय पर बमबारी की, जिसमें दो लोगों की मौत हो गई और 39 अन्य घायल हो गए। प्रारंभ में, ओज़कान ने तख्तापलट में अपनी भूमिका से इनकार किया

इस मामले में 14 महीने से लेकर 20 साल तक की सजा के साथ अलग-अलग 1,511 दोषियों को जेल की सजा दी गई। जबकि कई को राष्ट्रव्यापी मामलों में बरी कर दिया गया। शेष आरोपियों पर राजधानी अंकारा, इस्तांबुल और सात अन्य प्रांतों में जारी हैं।

Loading...
विज्ञापन
अपने 2-3 वर्ष के शिशु के लिए अल्फाबेट, नंबर एंड्राइड गेम इनस्टॉल करें Kids Piano