वाशिंगटन | अमेरिका के नव निर्वाचित राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प को शपथ लिए हुए अभी 13 दिन ही हुए है लेकिन उन्होंने सत्ता मिलते ही दुनिया में हलचल मचानी शुरू कर दी है. मीडिया जगत में ट्रम्प पूरी सुर्खिया बटोर रहे है. अभी एक परम्परा के तहत ट्रम्प ने कई देशो के राष्ट्राध्यक्षो से फोन पर बात की. इसके जरिये नया राष्ट्रपति अपने कार्यकाल में द्विपक्षिये सम्बन्ध और मजबूत करने का प्रयास करता है.

खबर है की डोनाल्ड ट्रम्प ने हाल ही में ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री मालकम टर्नबुल के साथ फ़ोन पर बात की. ऑस्ट्रेलिया हमेशा से ही अमेरिका का सबसे करीबी सहयोगी रहा है. इसलिए यह बातचीत और भी ज्यादा महत्तव रखती थी. लेकिन ट्रम्प ने मालकम से बेहद ही रुखा व्यव्हार करते हुए उन्हें खूब खरी खोटी सुनाई. ट्रम्प ने ऑस्ट्रेलिया पर आरोप लगाय की वो अपने यहाँ से बम विस्फोट करने वाले प्रवासियों को अमेरिका में प्रवेश कराना चाहता है.

अमेरिकी अधिकारियो ने इस बातचीत का ब्योरा देते हुए कहा की ट्रम्प ने मालकम से कहा की मैंने इससे पहले कई राष्ट्राध्यक्षो से बात की है लेकिन उनकी तुलना में यह बातचीत सबसे ख़राब रही है. ट्रम्प को मालकम से बातचीत करने के लिए 1 घंटे का समय निर्धारित किया गया था लेकिन 25 मिनट बाद ही ट्रम्प ने फोन डिसकनेक्ट कर दिया. ट्रम्प ने मालकम के सामने चुनाव में मिली भारी भरकम जीत की बात करते हुए अपनी खूब तारीफे की.

इस बातचीत के दौरान मालकम ने ट्रम्प को एक समझौते की याद दिलाते हुए कहा की ओबामा प्रशासन और ऑस्ट्रेलिया के बीच समझौता हुआ था की ऑस्ट्रेलिया में रहने वाले 1250 प्रवासियो को अमेरिका अपने यहाँ शरण देगा. यह बात सुनते ही ट्रम्प उखड गए. उन्होंने कहा की यह अब तक का सबसे वाहियात समझौता है. आप क्या चाहते है की मैं बोस्टन में अगला बम विस्फोट करने वालो को अमेरिका में शरण दे दूँ.

ट्रम्प ने आगे कहा की क्या ऑस्ट्रेलिया हमला करने के लिए इन लोगो को अमेरिका में निर्यात करना चाहता है. बाद में ट्रम्प ने इस बारे में ट्वीट करते हुए बताया की ‘ आप यकीन कर पाएंगे इसपर? ओबामा प्रशासन ऑस्ट्रेलिया से हजारों अवैध प्रवासियों को अमेरिका में लाने के लिए राजी हो गया था। क्यों? मैं इस बेवकूफाना समझौते के बारे में विस्तार से पढूंगा’.


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें