वॉशिंगटन. अमेरिका के फ्लोरिडा स्थित पेंसकोला नौसैनिक बेस पर शुक्रवार को हुई गोलीबारी में हम’लावर समेत 4 लोग मा’रे गए। इसके अलावा सुरक्षाबलों से जुड़े 8 अधिकारी ज’ख्मी हो गए।

एसआईटीई के मुताबिक, हमलावर ने ट्विटर पर कहा था,  ‘‘मैं बुराई के खिलाफ है। अमेरिका पूरी तरह एक ‘बुराई के देश’ में बदल चुका है। मैं सिर्फ आपके अमेरिकी होने के खिलाफ नहीं हूं। मैं आपके आजादी की वजह से आपसे नफरत नहीं करता। मैं इसलिए नफरत करता हूं, क्योंकि हर दिन आप न केवल मुसलमानों का बल्कि मानवता के खिलाफ अपराध का समर्थन करते हैं।’’ हमलावर की पहचान सऊदी अरब के नागरिक के तौर पर हुई।

हमलावर की पहचान सऊदी अरब के नागरिक मोहम्मद सईद अलशमरानी के रूप में की गई। शूटर सऊदी एयरफोर्स का सदस्य था और बेस पर ट्रेनिंग कर रहा था। इस पर फ्लोरिडा के गवर्नर रॉन डीसांटिस ने कहा, ‘‘जाहिर तौर पर उस युवक के विदेशी नागरिक होने, सऊदी एयर फोर्स का हिस्सा होने और फिर हमारी धरती पर ट्रेनिंग लेने और ऐसा करने को लेकर कई सवाल खड़े होते हैं।’’

इसी बीच सऊदी अरब के शाह सलमान ने अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प को फोन करके इस घटना को ‘‘नृशं’स कृत्य’’ करार दिया और अपने नागरिक के इस कृत्य पर ‘‘गुस्सा’’ जाहिर किया। ट्रम्प ने शुक्रवार को ट्वीट किया, ‘‘ सऊदी अरब के शाह सलमान ने फोन करके फ्लोरिडा के पेनसाकोला में हुए हमले में हताहत हुए लोगों के परिजन एवं मित्रों के प्रति संवेदना प्रकट की।’’

उन्होंने कहा, ‘‘ शाह ने कहा कि सऊदी के लोग हमलावर के इस नृशंस कृत्य से बेहद गुस्सा हैं और यह व्यक्ति किसी भी तरह सऊदी अरब के लोगों की भावनाओं का प्रतिनिधित्व नहीं करता जो अमेरिकियों से प्यार करते हैं।’’

Loading...
लड़के/लड़कियों के फोटो देखकर पसंद करें फिर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

 

विज्ञापन