trumpescalatestension

अमेरिका और चीन के बीच ट्रेड वॉर बढ़ता ही जा रहा है। अमेरिकी राष्ट्रपति ने बुधवार को 200 अरब डॉलर के चीनी माल के आयात पर 10 प्रतिशत का अतिरिक्त टैरिफ लगा दिया है। इससे पहले भी अमेरिका चीन से आने वाले 34 अरब डॉलर के सामान पर 25 फीसदी शुल्क लगा चुका है।

अमेरिका की यह कार्रवाई चीन के उस जवाबी हमले के बाद की गई जिसमें उसने अमेरिकी सामान पर 34 अरब डॉलर का शुल्क लगा दिया और 16 अरब डॉलर का अतिरिक्त शुल्क लगाने की धमकी दी थी।

अमेरिका के चीन के उत्पादों पर नए शुल्क लगाने की घोषणा के बाद चीन ने हमारा देश अमरीका की मनमानी और गुंडागर्दी के सामने कभी भी नहीं झुकेगा। चीन सरकार ने प्रवक्ता ने कहा कि अमरीका की मनमानी और ज़ोर-ज़बरदस्ती के मुक़ाबले में हम विश्व समुदाय के साथ हैं।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

वहीं चीन के सहायक वाणिज्य मंत्री ली चेंगगांग ने कहा कि चीन-अमेरिका ने एक-दूसरे पर वृहद पैमाने पर जो शुल्क लगाएं हैं, वह दोनों देशों का कारोबार बर्बाद कर देगें।

उन्होंने आरोप लगाया कि अमेरिकी नीति वास्तव में आर्थिक वैश्वीकरण की प्रक्रिया में बाधा डालती है और दुनिया का आर्थिक क्रम बिगाड़ती है। ली ने इस स्थिति को वैश्विक व्यापार के लिए अराजकता का समय बताया।