अमेरिका के नवनियुक्त राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प की मुस्लिमों के खिलाफ की गई नीतियों की घोषणा के चलते अमेरिका में मुस्लिम सहित अन्य अल्पसंख्यक समुदाय घबराया हुआ हैं. ऐसे में अमेरिका की आम जनता मुस्लिमों के समर्थन में ट्रम्प की नीतियों के खिलाफ एकजुट हो रही हैं.

ट्रम्प ने अपने चुनाव प्रचार के दौरान अमेरिका में मुस्लिमों का एक डाटा बेस तैयार कराने का वादा किया था. जिसके तहत अमेरिका के सभी मुस्लिमों पर सरकार की नजर रहेगी. ट्रम्प द्वारा राष्ट्रपति का पद सँभालने के बाद से ही मुसलमान डरे हुए हैं.

ऐसे में अमेरिकी नारीवादी आइकन ग्लोरिया स्तेइनेम ने शनिवार को कहा कि अगर अमेरिका मुसलमानों की रजिस्ट्री शुरू होती हैं तो फिर “हम सभी मुसलमान के रूप में खुद को पंजीकृत कराएँगे.” ट्रम्प की इस नीति का उनके सहयोगियों ने भी विरोध किया हैं.

वाशिंगटन में हुए महिला मार्च के दोरान उन्होंने कहा कि “अगर आप रजिस्टर करने के लिए मुसलमानों को मजबूर करते हैं, तो हम सभी मुसलमान के रूप में खुद को पंजीकृत कराएँगे,” उन्होंने आगे कहा, “इसलिए हमें बांटने की कोशिशें मत करो और हमें एक दूसरे से जुदा मत करो,”


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें