Friday, August 6, 2021

 

 

 

ट्रंप ने विश्व स्वास्थ्य संगठन से तोड़े सभी रिश्ते, चीन पर भी लगाई नई पाबंदी

- Advertisement -
- Advertisement -

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने शुक्रवार को विश्व स्वास्थ्य संगठन से सभी सबंध समाप्त कर देने की घोषणा की है। वहीं चीन के खिलाफ नए प्रतिबंधों का भी ऐलान किया है।

राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा है कि  अमेरिका विश्व स्वास्थ्य संगठन से अपने ताल्लुकात खत्म कर रहा है। उन्होंने कहा है कि डब्लूएचओ नोवेल कोरोना वायरस के प्रारंभिक फैलाव को सही तरीके से रोकने में नाकामयाब हुआ। उन्होने आरोप लगाया कि डब्ल्यूएचओ पर चीन का पूरी तरह नियंत्रण है और यह उसी इशारे पर चल रहा है।

ट्रम्प ने WHO और चीन को दुनिया भर में कोरोना से हुई मौतों का जिम्मेदार ठहराते हुए कहा, ‘सालाना सिर्फ 40 मिलियन डॉलर (4 करोड़ डॉलर) की मदद देने के बावजूद चीन का WHO पर पूरी तरह नियंत्रण है। दूसरी ओर अमेरिका इसके मुकाबले सालाना 45 करोड़ डॉलर की मदद दे रहा था। ट्रम्प ने कहा कि WHO को रोके गए फंड को अब दुनिया के दूसरे स्वास्थ्य संगठनों की मदद में इस्तेमाल किया जाएगा।

चीन पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा, ‘वर्षों से चीन की सरकार ने हमारे औद्योगिक रहस्यों को चुराने के लिए अनुचित जासूसी की है। आज मैं हमारे राष्ट्र के महत्वपूर्ण विश्वविद्यालय अनुसंधान को बेहतर ढंग से सुरक्षित करने के लिए एक घोषणा जारी करूंगा और संभावित विदेशी जोखिमों के रूप में पहचाने जाने वाले चीन से कुछ विदेशी नागरिकों के प्रवेश को निलंबित कर दूंगा।’

ट्रंप ने कहा कि हांगकांग के खिलाफ चीनी सरकार का कदम शहर की दीर्घकालिक और गौरव की स्थिति को खत्म कर रहा है। यह हांगकांग के लोगों, चीन के लोगों और वास्तव में दुनिया के लोगों के लिए एक त्रासदी है।

उन्होंने कहा कि हम चीनी राज्य सुरक्षा तंत्र द्वारा निगरानी और दंड के बढ़ते खतरे को प्रतिबिंबित करने के लिए हांगकांग के लिए विदेश विभाग की यात्रा सलाह को संशोधित करेंगे। चीन ने एक देश, दो प्रणाली को एक देश एक प्रणाली से बदल दिया है। इसलिए, मैं अपने प्रशासन को निर्देश दे रहा हूं कि वह हांगकांग को अलग और विशेष उपचार देने वाली नीतिगत छूटों को समाप्त करने की प्रक्रिया शुरू करे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles