ईरान के जाने माने परमाणु वैज्ञानिक मोहसेन फखरीजादेह की राजधानी तेहरान के बाहर उनकी ही कार में शुक्रवार को हत्या कर दी गई। ईरान ने हमले के पीछे इजराइल का हाथ बताया है।

ईरान के विदेश मंत्री मुहम्मद जावद जरीफ ने एक ट्वीट में हत्या में इजराइल का हाथ होने का शक जताया है। उन्होने कहा, आतंकवादियों ने आज ईरान के एक प्रमुख वैज्ञानिक की हत्या कर दी है। ये बुज़दिल कार्रवाई, जिसमें इसराइल के हाथ होने के गंभीर संकेत हैं, हत्यारों की जंग करने के इरादे को दर्शाता है।

उन्होंने एक अन्य ट्वीट में कहा, ईरान एक बार फिर आतंकवाद का शिकार हुआ है। आतंकवादियों ने ईरान के एक महान विद्वान की बर्बरतापूर्वक हत्या कर दी है। हमारे नायकों ने दुनिया और हमारे इलाके में स्थिरता और सुरक्षा के लिए हमेशा आतंकवाद का सामना किया है ग़लत काम करने वालों की सज़ा अल्लाह का क़ानून है।

ईरान के रक्षा मंत्रालय ने शुक्रवार को एक बयान जारी कर कहा, हथियारबंद आतंकवादियों ने रक्षा मंत्रालय के शोध और नवोत्पाद विभाग के प्रमुख मोहसिन फ़ख़रीज़ादेह को ले जा रही कार को निशाना बनाया।  मंत्रालय के मुताबिक़ आतंकवादियों और फ़ख़रीज़ादेह के अंगरक्षकों के बीच हुई झड़प में वो बुरी तरह घायल हो गए और उन्हें स्थानीय अस्पताल ले जाया गया लेकिन दुर्भाग्य से उनको बचाने की मेडिकल टीम की तमाम कोशिशें नाकाम रहीं।

मोहसिन फाखरीजादेह की मौत से ईरान के परमाणु कार्यक्रम को बड़ा झटका लगा है। फखरीजादेह को द फादर ऑफ ईरानियन बॉम्ब कहा जाता था। खबरों के मुताबिक मोहसिन फखरीजादेह 2003 में रोके गए ईरान के गुप्त परमाणु हथियार कार्यक्रम का नेतृत्व कर रहे थे। वह गुपचुप तरीके से चल रहे ईरान के परमाणु कार्यक्रम को देख रहे थे। हालांकि, ईरान परमाणु हथियारों को लेकर लगने वाले आरोपों का खंडन करता रहा है।

Loading...
विज्ञापन
अपने 2-3 वर्ष के शिशु के लिए अल्फाबेट, नंबर एंड्राइड गेम इनस्टॉल करें Kids Piano