अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प बड़ा फैसला लेने जा रहे है. जिसके चलते अमेरिका में रह रहे करीब 7,50,000 भारतीय मुश्किल में पड़ सकते है.

ट्रंप सरकार जल्द ही अमेरिका में H-1B वीजा को मंजूरी देने वाली है. जिसके चलते बड़ी संख्या में भारतीयों को अमेरिका छोड़ने पर विवश किया जाएगा. ध्यान रहे ट्रंप ‘बाई अमेरिकन हायर अमेरिकन’ की नीति पर काम कर रहे है. ऐसे में भारतियों की तुलना में अमेरिकियों को नौकरी में तरजीह दी जा रही है.

अगर राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के स्थानीय अमेरिका के नागरिकों को नौकरी देने की नीति ‘बाई अमेरिकन हायर अमेरिकन’ पर वहां की सरकार आगे बढ़ती है ऐसा अनुमान है कि करीब 5 लाख से साढ़े सात लाख भारतीय एच1बी वीजा धारकों को वापस जाने को विवश किया जा सकता है.

इस प्रस्ताव के बार में सबसे पहले ख़बर देने वाले डीसी ब्यूरो के मैक क्लेची ने अपने जानकारों के तरफ से यह बताया है कि होमलैंड सिक्योरिटी ऑफिशियल्स की तरफ से यह कहा गया है कि इसके पीछे यह योजना है ताकि हज़ारों भारतीय कुशल कारीगर खुद ही यहां से वापस चले जाएं ताकि अमेरिकी लोगों को लिए वो नौकरी बची रहे.

सेन जोस में आप्रवासन वायस के एक अधिकारी ने बताया है कि अगर यह लागू कर दिया जाता है तो बड़ी संख्या में भारतीयों को अमेरिका छोड़ने पर विवश किया जाएगा. जिसके चलते हजारों परिवारों के सामने संकट पैदा हो जाएगा.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?