Monday, October 25, 2021

 

 

 

रोहिंग्या मुसलमानों के आतंकियों से जुड़े होने का कोई सबूत नहीं: बीएसएफ

- Advertisement -
- Advertisement -

kk12

म्यांमार में बोद्ध चरमपंथियों और म्यांमार की सेना के अत्याचारों से अपनी जान बचाकर भारत पहुंचे रोहिंग्या मुस्लिमों का फिलहाल किसी भी आंतकी संगठनों के साथ कोई लिकं सामने नहीं है.

सीमा सुरक्षा बल के डायरेक्टर जनरल केके शर्मा ने इस सबंध में बुधवार को कहा कि अभी तक सुरक्षा बलों को किसी भी रोहिंग्या मुसलमानों के टेरर ग्रुप से लिंक होने के कोई सबूत नहीं मिले हैं. ध्यान रहे केंद्र की मोदी सरकार ने रोहिंग्या मुस्लिमों के आतंकी संगठनों के कथित रिश्तों के हवाला देकर वापस भेजने पर जोर दिया था.

उन्होंने कहा कि अगर भारतीय खुफिया एजेंसियां रोहिंग्या मुसलमानों के संबंध में आतंकी होने की होने की कोई जानकारी देती हैं तो उसे गंभीरता से लिया जायेगा.

शर्मा ने बताया कि इस साल के अक्टूबर माह तक बीएसएफ ने 87 रोहिंग्या शरणार्थियों को गिरफ्तार किया था, जिसमें से 76 को वापस बांग्लादेश भेज दिया गया है. उन्होंने कहा, ‘हमारे आंकलन में रोहिंग्या शरणार्थियों के किसी भी आतंकी समहों से लिंक होने की सूचना नहीं मिली है.’

उन्होंने इस बात की भी पुष्टि की है कि उनकी गिरफ्तारी के दौरान उनके पास कोई हथियार या गोला बारूद भी नहीं मिला.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles