मुंबई हमलों के मास्टरमाइंड और जमात-उद दावा के सरगना हाफ़िज़ सईद की रिहाई का बचाव करते हुए पाकिस्तानी प्रधानमंत्री शाहिद खाकन अब्बासी ने कहा कि भारत के पास कोई सबूत है तो वह अंतरराष्ट्रीय फोरम में मुकदमा दर्ज करा सकता है.

‘ब्लूमबर्ग’ को दिए इंटरव्यू में उन्होंने दावा किया कि उसके खिलाफ कोई सबूत नहीं होने के कारण लाहौर हाई कोर्ट ने हाफ़िज़ सईद को रिहा किया है. अब्बसी ने बताया, कोर्ट में तीन जजों की बेंच ने हाफिज को यह कहकर रिहा किया है कि उसके खिलाफ कोई सबूत नहीं हैं. उन्होंने कहा, देश के कानून हैं, आपको पता है.

अब्बासी ने आगे कहा, ‘अगर इन आरोपों की पुष्टि करने वाले कोई ठोस सबूत हैं तो उसपर अंतरराष्ट्रीय फोरम में मुकदमा कीजिए. ये सिर्फ आरोप हैं. भारत की तरफ से कोई सबूत मुहैया नहीं कराए गए हैं.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

पाक प्रधानमंत्री का ये बयान हाल ही में लाहौर हाईकोर्ट के न्यायाधीशों के एक पैनल द्वारा 10 महीने की घर पर नजरबंद से मुक्त करने के बाद आया है.

ध्यान रहे भारत कई बार हाफिज के खिलाफ सबूत देने का दावा कर चुक है. लेकिन पाकिस्तान हमेशा इन सबूतों को नकारता आया है.

Loading...