नई दिल्ली। भारत के साथ द्विपक्षीय रिश्तों के 70 साल पूरे होने पर दुनिया के सबसे बड़े मुस्लिम देश इंडोनेशिया ने रामायण की थीम पर विशेष स्मारक डाक टिकट जारी किया है।

भारतीय दूतावास की ओर से जारी बयान के अनुसार इस स्टांप का डिजाइन इंडोनेशिया के जाने-माने मूर्तिकार बपक न्योमन नुआर्ता ने तैयार किया है। इस पर रामायण की घटना अंकित है, जिसमें जटायु सीता को बचाने के लिये बहादुरी से लड़ते हुए नजर आ रहे हैं।

भारतीय दूतावास की ओर से जारी बयान के मुताबिक खास हस्ताक्षर वाले इस टिकट को जर्काता के फिलेटली संग्रहालय में प्रदर्शनी के लिए रखा जाएगा। जानकारी के लिए बता दें कि रामायण 90 फीसदी मुस्लिम आबादी वाले इंडोनेशिया की सांस्कृतिक विरासत का अभिन्न हिस्सा है।

रामायण को वहां रामायण ककविन (काव्य) कहा जाता है। इसके चरित्रों का इस्तेमाल वहां के स्कूलों में शिक्षा देने के लिए भी किया जाता है। राजनयिक संबंधों के 70 साल पूरे होने के मौके पर आयोजित कार्यक्रम में भारत के राजदूत प्रदीप कुमार रावत और इंडोनेशिया के उप-विदेश मंत्री अब्दुर्रहमान मोहम्मद फाचर शामिल हुए।

कार्यक्रम के दौरान 1949 से लेकर 2019 के बीच भारत-इंडोनेशिया के संबंधों से जुड़े ऐतिहासिक पलों की तस्वीरों की प्रदर्शनी भी हुई। इसके बाद भारतीय मंडली ने सांस्कृतिक नृत्य का प्रदर्शन किया।

शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें