उत्तरी कोरियाई नेता किम जोंग उन को मारने को लेकर की गई साजिश का एक बड़ा खुलासा हुआ है. इस साजिश के तहत किम जोंग पर जैविक हथियारों के जरिए हमला करना था. जिसे नाकाम कर दिया गया.

उत्तरी कोरियाई सरकार ने इस साजिश पर से पर्दा उठाते हुए बताया कि इस साल मई में किम जोंग को मारने के लिए एक आतंकी समूह ने उत्तर कोरिया में घुसपैठ की थी. ये किम जोंग को जैविक हमले के जरिए खत्म करना चाहते थे.

प्योंगयांग ने इस साजिश के पीछे अमेरिका को जिम्मेदार बताया और कहा कि अमेरिका और दक्षिण कोरिया ने मिलकर ये साजिश की थी.

उत्तरी कोरियाई की और से जारी बयान में कहा गया कि वाशिंगटन आतंकवाद के ख़िलाफ़ तथाकथित युद्ध का इस्तेमाल अपनी विरोधी सरकारों को गिराने के लिए करता है.

बयान में बताया गया, इराक़ और लीबिया इसका उदाहरण है. परमाणु कार्यक्रमों को बंद करा देने के बाद भी अमेरीका ने ने उन पर हमला कर दिया.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?