अफ़ग़ानिस्तान की राजधानी काबुल में हुए आतंकवादी धमाकों की निंदा करते हुए मिस्र के अल-अज़हर विश्वविद्यालय ने इन घटनाओं को इस्लामिक तालीम के खिलाफ बताया हैं.

मंगलवार को मिस्र के अल-अज़हर विश्वविद्यालय ने इस सबंध में एक बयान जारी कर कहा कि ह आतंकवादी कार्यवाहियां इस्लाम की तालीम के उलट हैं. साथ ही दुनिया भर को आतंकवाद के ख़िलाफ़ लड़ाई में एकजुट होने को कहा हैं.

सोमवार रात को काबुल में तालिबान की ओर से किए गए दो बम विस्फोटों में कम से कम 24 व्यक्तियों की मौत हो गई थी और 91 अन्य घायल हो गए थे.

इसके अलावा एक हमलावर ने खुद को बम से उड़ा दिया था जिसमे 24 लोग मारे गए थे. मरने वालों में सेना का एक जनरल और दो वरिष्ठ पुलिस अधिकारी भी शामिल हैं.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?