Friday, December 3, 2021

इस्लाम की आड़ में आतंकवादी हमले मुस्लिमों के साथ सबसे बड़ा अन्याय: अज़रबैजानी राष्ट्रपति

- Advertisement -

तुर्की की राजधानी इस्तांबुल में तुर्की-अज़रबैजानी दोस्ती को इसलामिक एकता का उदाहरण देते हुए अज़रबैजानी राष्ट्रपति ने कहा कि दुनिया भर में मुसलमानों को सांप्रदायिक भेदभाव, उग्रवाद, धार्मिक कट्टरपंथ और आतंकवाद जैसे गंभीर समस्याओं का सामना करना पढ़ रहा है.

उन्होने कहा, इस्लाम के नाम पर आतंकी हामले करने वालों का इस्लाम से कोई ताल्लुक नहीं है बल्कि वे इस्लाम की आड़ लेकर आतंकवादी हमले कर मुसलमानों पर सबसे बड़ा अन्याय कर रहे हैं.”

अज़रबैजानी राष्ट्रपति ने कहा, “दुनिया भर में आज के आतंकवादी हमलों के अधिकांश शिकार सिर्फ मुसलमान हैं. उन्होंने कहा, इस्लामी एकता के लिए सांप्रदायिक भेदभाव को रोकना समय की मांग है. सांप्रदायिक भेदभाव इस्लामी दुनिया को धार्मिक उग्रवाद और आतंकवाद की और ले जाता है.

राष्ट्रपति अलीयव ने अपने संदेश में कहा कि पूर्व और पश्चिम के संगम में स्थित अजरबैजान में विभिन्न धर्मों और संस्कृतियों के प्रतिनिधियों ने ऐतिहासिक शांति और शांति कायम कर रखी है.

अपने संदेश में राष्ट्रपति अलियेश ने अजरबैजान और तुर्की के बीच मैत्रीपूर्ण और भाईचारे संबंधों के बारे में बताया कि इस्लामिक एकता के सबसे अच्छे उदाहरण हैं, उन्होंने कहा, इस्तांबुल सम्मेलन मुस्लिम देशों के बीच एकजुटता को मजबूत करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा।

- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles