ट्रंप के शांति वार्ता रद्द करने पर बोला तालिबान – अब अमेरिकी ज्यादा से ज्यादा…

12:10 pm Published by:-Hindi News

तालिबान ने अफ़ग़ान शांति वार्ता से पीछे हटने के अमरीकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप के फ़ैसले की आलोचना करते हुए कहा है कि इससे अमेरिका को बड़ा नुकसान होगा और अब ज्यादा अमेरिकियों की जान जाएगी।

तालिबान की तरफ से रविवार देर रात एक बयान जारी किया गया, जिसमें अमेरिका को सीधी चेतावनी दी गई है। तालिबान के प्रवक्ता जबीहुल्ला मुजाहिद ने कहा कि जिस वक्त डोनाल्ड ट्रंप हमले की दुहाई दे रहे हैं, उसी वक्त अमेरिकी सेना भी अफगानिस्तान में लगातार बम बरसा रही है।

तालिबान का कहना है कि अमेरिका के लिए ये भारी पड़ने वाला है। इससे अमेरिका की छवि पर असर होगा, लोगों की जान जाएगी और शांति भंग होगी। गौरतलब है कि डोनाल्ड ट्रंप और तालिबान के बड़े नेताओं के बीच ये बैठक कैंप डेविड में होने थी, जहां अक्सर अमेरिकी राष्ट्रपति बड़ी और अहम बैठकें करते हैं।

donald trump reuters 1

तालिबान के राजनीतिक मामलों के प्रवक्ता सुहैल शाहीन ने ट्वीट कर कहा, ‘कुछ दिन पहले ही अमेरिका के साथ समझौते तय हुए थे और इसको दोनों पक्षों के नेताओं के पास भेज दिया गया था। हर कोई इससे सहमत था साथ ही इस पर भी राय बनी थी कि कतर इस डील की घोषणा करेगा। लेकिन ट्रंप की ओर से किए गए निराशाजनक ट्वीट ने उनकी विश्वसनीयता को पहुंचाया है।’

हालांकि अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो का कहना है कि इसको लेकर काम जारी है लेकिन यह तब तक आगे बढ़ नहीं सकता है जब तक तालिबान अपनी प्रतिबद्धता नहीं दिखाता है।

बता दें कि कार ब्लास्ट में एक अमेरिकी सैनिक समेत 12 लोगों की मौत के बाद ट्रंप ने ट्वीट कर कहा, ‘काबुल में एक हमले में हमारे एक महान सैनिक और 11 लोगों की मौत हो गई। मैं तत्काल प्रभाव से मीटिंग रद्द करता हूं और शांति समझौते को भी बंद करता हूं।’ ट्रंप ने कहा, अपनी सौदेबाजी की स्थिति को मजबूत करने के लिए किस तरह के लोग इतने लोगों को मार सकते हैं।

Loading...