Tuesday, January 25, 2022

विफल अफगान शांति वार्ता पर चर्चा के लिए तालिबान अब पाक की शरण में

- Advertisement -

अफगानिस्तान की शांति प्रक्रिया टूटने के बाद क्षेत्रीय शक्तियों के दौरे पर नवीनतम रोक के साथ एक अफगान तालिबान प्रतिनिधिमंडल बुधवार को पाकिस्तान का दौरा करेगा।

तालिबान के प्रवक्ता सुहैल शहीद ने ट्विटर पर कहा कि तालिबान सदस्यों का एक प्रतिनिधिमंडल, मुल्ला अब्दुल गनी बरादर के नेतृत्व में, जो समूह के संस्थापकों में से एक है, राजधानी इस्लामाबाद में पाकिस्तानी अधिकारियों के साथ “महत्वपूर्ण मुद्दों” पर चर्चा करेगा।

1990 के दशक के प्रारंभ में अफगानिस्तान के गृहयुद्ध के बीच समूह की स्थापना से पाकिस्तान ने तालिबान का समर्थन किया। तालिबान के एक सुरक्षा अधिकारी ने कहा कि तालिबान प्रतिनिधिमंडल पाकिस्तान के नेतृत्व को सूचित करेगा, जिसने संयुक्त राज्य अमेरिका के साथ वार्ता के उद्देश्य से बातचीत की।

बता दें कि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने काबुल में तालिबान ब*म हमले में एक अमेरिकी सैनिक और 11 अन्य लोगों की मौ’त के बाद पिछले महीने तालिबान के साथ वार्ता को रोक दिया।

तालिबान के अधिकारी ने कहा कि तालिबान ने पाकिस्तान के प्रधान मंत्री इमरान खान की न्यूयॉर्क में एक बैठक से पहले हाल ही में टिप्पणी करने की योजना बनाई है, कि वह वार्ता को फिर से शुरू करने के लिए राष्ट्रपति को मनाने की कोशिश करेंगे। यह स्पष्ट नहीं है कि तालिबान प्रतिनिधिमंडल इस्लामाबाद में खान से मुलाकात करेगा या नहीं।

- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles