taliban 1528526707

अफगानिस्तान सरकार की और से ईद-उल-फितर के मौके पर बिना शर्त संघर्ष विराम की घोषणा को तालिबान ने स्वीकार लिया है। ऐसे मे अब तालिबान अफगान सुरक्षाबलों पर और अफगान सुरक्षाबल तालिबान पर कोई हमला नहीं करेगा।

माचार एजेंसी एफे ने तालिबान की ओर से जारी बयान के हवाले से कहा, “सभी मुजाहिद्दीन को ईद के पहले, दूसरे और तीसरे दिन के दौरान घरेलू विपक्षी बलों पर हमले नहीं करने के निर्देश दिए हैं।”

तालिबान का कहना है कि वह युद्धविराम के दौरान किसी भी तरह की आक्रामकता का जवाब देगा। खामा प्रेस ने कहा, राष्ट्रपति अशरफ गनी के संघर्षविराम के ऐलान के बाद तालिबान ने यह बयान दिया है।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

तालिबान ने विदेशी सैनिकों पर कहा है कि उन्हें इस संघर्षविराम से बाहर रखा गया है। यानी आतंकी अफगान सुरक्षाबलों के अलावा बाकी किसी भी देश के सैनिकों को देखते ही उन पर हमला कर सकते हैं।

गनी ने गुरुवार को तालिबान के साथ युद्धविराम की घोषणा करते हुए कहा था कि 13 जून से ईद उल फितर के पांचवें दिन तक संघर्षविराम की बात कही थी। हालांकि संघर्षविराम के प्रस्ताव को मानने के कुछ घंटों बाद ही 20 सुरक्षाबलों की हत्या की है।

एजेंसी के मुताबिक, संघर्षविराम होने के बाद तालिबान विद्रोहियों ने अल-सुबह कला-ए-जल जिले में कई सुरक्षा चौकियों पर हमले किए, जिसमें 20 सुरक्षाबल मारे गए, 6 घायल हैं।

Loading...