ईरान समर्थित आतंकवादी समूहों ने सीरिया में उत्तर-पश्चिमी इदलिब प्रांत के उमय्यद ख़लीफ़ा उमर बिन अब्दुलअज़ीज़ के मजार को नुकसान पहुंचाया है।

सोशल मीडिया पर मंगलवार को एक वीडियो फुटेज में आतंकवादी समूहों को मरात अल-नुमान शहर के पास दीर शारकी शहर में धर्मस्थल पर ले जाते नुकसान पहुंचाते हुए दिखाया गया है।

वहीं एक अन्य वीडियो में मजार को खोलने और फिर खाली कब्र दिखाई गई है। अंदर दफन किए गए अवशेषों को कहां स्थानांतरित किया गया, इस बारे में कोई जानकारी उपलब्ध नहीं है।

फरवरी में, शासन बलों ने दरगाह के आसपास के क्षेत्र में आग लगा दी, जब उन्होंने शहर पर नियंत्रण कर लिया, जिससे मजार को नुकसान पहुंचा।

उमर बिन अब्दुलअज़ीज़ आठवें उमय्यद ख़लीफ़ा थे और उनका वंश दूसरे मुस्लिम ख़लीफ़ा और पैगंबर मुहम्मद (सल्ल.) के साथी उमर बिन अल-खत्ताब का है। ।

उमर बिन अब्दुलअज़ीज़ को उनकी दो साल और 5 महीने की सत्तारूढ़ अवधि के दौरान न्याय के लिए इस्लाम के पांचवें धर्मी ख़लीफ़ा के रूप में नामित किया गया था।

Loading...
लड़के/लड़कियों के फोटो देखकर पसंद करें फिर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

 

विज्ञापन