Wednesday, October 27, 2021

 

 

 

फ्रांस में पादरी पर हुआ हमला आपसी रंजिश का नतीजा, जांच में नहीं निकला ‘मुस्लिम एंगल’

- Advertisement -
- Advertisement -

फ्रांस के ल्योन शहर में एक पादरी को चर्च के बाहर गोली मार देने के मामले में जांच में बड़ा खुलासा हुआ है। पादरी पर ये हमला आपसी रंजिश के तहत किया गया था।

ग्रीक परंपरावादी चर्च के पादरी को शनिवार को बहुत नजदीक से पेट में गोली मारी गई। पादरी को अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां उनका इलाज जारी है। जांचकर्ताओं का कहना है कि “ऐसा लगता है कि हमारे पास कुछ ऐसे सबूत हैं जो हमें विश्वास दिलाते हैं कि यह आतंकवादी हमला नहीं है।”

सूत्र ने कहा कि हमलावर के विवरण से मेल खाने वाले व्यक्ति को “पूछताछ के लिए लिया हिरासत में लिया गया था, लेकिन अन्य संभावित संदिग्धों के लिए खोज अभी भी जारी है।”

फ्रांस के प्रधानमंत्री ​जीन कास्टेक्स ने रिपोर्टरों को बतायाकि यह एक ‘गंभीर घटना’ है। हालांकि हमारे पास इस घटना के सटीक तथ्य नहीं मौजूद हैं। उन्होंने यह भी कहा कि ‘क्राइसिस सेंटर’ को सक्रिय किया जाएगा।

पुलिस के अनुसार हमलावरों ने काला लंबा कोट पहना हुआ था और शॉटगन को अपनी कोट के अंदर छुपा कर रखा था। ल्योन में चर्च के आसपास के निवासियों ने बताया कि पादरी निकोलास काकवलाकी को दो गोली मारी गई। जब वे अपने चर्च को बंद कर रहे थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles