putin-and-obama
दिन बा दिन ख़राब होते जा रहे अमेरिका और रूस के संबंधों में एक और झटका लगा है ताज़ा खबरों के मुताबिक रूस ने अमेरिका को धमकी भरे लहजे में कहा है की अमेरिका आग से ना खेले. ख़ुफ़िया सुरक्षा विभाग में रूसी राष्ट्रपति के विशेष दूत ने मास्को के विरुद्ध साइबर हमले आरंभ करने पर आधारित अमरीक की धमकी के बाद वाशिंग्टन को सचेत किया है कि यह फ़ैसला आग से खेलना है।

गौरतलब है की विश्व की दो बड़ी ताक़तों के टकराव से दुनियाभर के लोगो को परमाणु युद्ध का डर सता रहा है. जहाँ एक तरफ अमेरिका और रूस में संबंधो में खटास है वहीँ भारत और पकिस्तान एक दुसरे को आँखें दिखा रहे है और मिडिल ईस्ट का हाल सर्वविदित है.

विलादीमीर पुतीन के विशेष प्रतिनिधि अंद्रे क्रोतेस्कीख़ ने पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि रूस के विरुद्ध किसी भी कार्यवाही का मुंहतोड़ उत्तर दिया जाएगा और मास्को डराने की रूस की कार्यवाही साधारण और ग़ैर ज़िम्मेदाराना है।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

अमरीका में राष्ट्रपति चुनाव को प्रभावित करने के उद्देश्य से रूसी हैकरों के हमले पर आधारित वाशिंग्टन के आधिकारिक और अनाधिकारिक बयानों के साथ ही इस देश के उपराष्ट्रपति जो बाइडन ने रूस के विरुद्ध साइबर युद्ध आरंभ करने का आदेश दे दिया है। उन्होंने कहा कि अमरीका देश के विरुद्ध रूस के साइबर हमलों का करारा जबवा देगा।

कामरसेन्ट समाचार पत्र ने लिखा कि अमरीका की जासूसी संस्था सीआईए रूस पर साइबर हमले की योजना बना रही है और यह रूस का जवाब देने को तैयार है। अमरीका के राष्ट्रपति, राष्ट्रपति पद की प्रत्याशी हिलेरी क्लिंटन सहित विभिन्न नेता बारंबार यह दावा कर चुके हैं कि रूसी हैकर राष्ट्रपति चुनाव को बाधित करने के लिए निरंतर साइबर हमले कर रहे हैं।

Loading...