shrilan

भारत और श्रीलंका के बिगड़े रिश्तों के बीच राष्ट्रपति मैत्रीपाला सिरिसेना ने भारत पर गंभीर आरोप लगाया है। सिरीसेना ने मंगलवार को अपनी कैबिनेट से कहा कि भारत की अंतरराष्ट्रीय खुफिया एजेंसी रिसर्च एंड एनालिसिस विंग (रॉ) उनकी ह’त्या की साजिश रचने का प्रयास कर रही है।

उन्‍होंने इसके साथ यह भी जोड़ा है कि शायद भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को इस बात की जानकारी नहीं है लेकिन भारतीय खुफिया एजेंसी रॉ उन्‍हें मारने की साजिश रच रहा है। हालांकि, राष्ट्रपति के वरिष्ठ सलाहकार शिरल लखठिलका ने इस रिपोर्ट को झूठा बताया है।

उन्होंने कहा कि मीडिया ने सिरिसेना के बयान को गलत तरीके से लिया और इस संबंध में राष्ट्रपति कार्यालय की तरफ से जल्द बयान जारी किया जाएगा। मैत्रीपाला सिरिसेना का यह बयान ऐसे वक्त आया है, जब श्रीलंकाई प्रधानमंत्री रानिल विक्रमासिंघे भारत दौरे पर आने वाले हैं।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

महीने की शुरुआत में रिपोर्टेस से पता चला था कि सीबीआई ने श्रीलंका में भ्रष्टाचार निरोधी क्रूसेडर नमाल कुमारा से पूछताछ की थी। जिसने दावा किया था कि सिरीसेना की ह’त्या की सजिश के बारे में उसे पूरी जानकारी है। बाद में उसने सीबीआई को भारतीय नागरिक थॉमस के बारे में बताया।

थॉमस केरल का रहने वाला है और उसने भी इस बात का दावा किया कि उसे इस साजिश की जानकारी है। हालांकि बाद में यह सभी रिपोर्ट सरकार द्वारा खारिज कर दी गईं। कहा गया कि ये केवल विरोध को बढ़ावा दे रही थीं। बैठक के बाद सिरीसेना के सलाहकारों ने ह’त्या की साजिश पर बात करने के लिए एक प्रेस मीट भी बुलाया।

उल्लेखनीय है कि मैत्रीपाला सिरिसेना को भारत का नजदीकी माना जाता रहा है, जबकि उनके विरोधी महिंदा राजपक्षे को चीन का नजदीकी माना जाता है।

Loading...