mahin

श्रीलंका में विवादास्पद तरीके से प्रधानमंत्री नियुक्त किए गए महिंदा राजपक्षे शनिवार को पद से इस्तीफा देंगे। ह जानकारी उनके बेटे नमल राजपक्षे ने एक ट्वीट के जरिये दी है। हालांकि, विक्रमसिंघे के पीएम बनने का रास्ता अब भी साफ नहीं है क्योंकि राष्ट्रपति ने कहा कि वह उन्हें पीएम नहीं बनने देंगे।

बता दें कि बीते अक्टूबर में प्रधानमंत्री रानिल विक्रमसिंघे को अचानक बर्खास्त कर राष्ट्रपति मैत्रीपाला सिरीसेना ने महिंदा राजपक्षे को शपथ दिला दी थी। इस फैसले के भारी विरोध के बाद उन्होंने संसद भंग कर दी थी। इसके बाद वहां की एक अदालत ने महिंदा राजपक्षे को मामले की अगली सुनवाई तक बतौर प्रधानमंत्री काम करने से रोक दिया था। ये सुनवाई जनवरी में होनी है।

Loading...

इसी बीच महिंदा राजपक्षे के बेटे नमल राजपक्षे ने शुक्रवार शाम ट्वीट करके एलान किया है कि उनके पिता महिंदा राजपक्षे शनिवार को देश के प्रधानमंत्री पद से इस्तीफ़ा दे सकते हैं। नमल राजपक्षे ने अपने ट्वीट में लिखा है, “देश में स्थिरता को सुनिश्चित करने के लिए पूर्व राष्ट्रपति महिंदा राजपक्षे ने शनिवार को देश को संबोधित करने के बाद प्रधानमंत्री पद से इस्तीफ़ा देने का फ़ैसला किया है। एसएलपीपी (राजपक्षे के नेतृत्व वाली पार्टी), एसएलएफ़पी और अन्य पक्ष मिलकर राष्ट्रपति सिरिसेना के साथ विस्तृत राजनीतिक गठबंधन बनाने पर काम करेंगे।”

वहीं दूसरी और सिरिसेना ने कहा कि वह सोमवार तक नए पीएम और कैबिनेट का चयन करेंगे लेकिन वह विक्रमसिंघे को दोबारा पीएम नियुक्त नहीं करेंगे। सिरिसेना ने बैठक में कहा कि संसद भंग करने के मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले को वह स्वीकार करेंगे लेकिन विक्रमसिंघे के साथ कभी शासन नहीं करेंगे।

शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें