shut

shut

दक्षिण अफ्रीका में सत्ताधारी पार्टी अफ्रीकी नेशनल कांग्रेस (एएनसी) ने अमेरिकी सरकार के जेरुसलम को इजरायल की राजधानी घोषित करने और अमेरिकी दूतावास को तेलअवीव से जेरुसलम शिफ्ट करने के खिलाड़ बड़ा फैसला लिया है.

दक्षिण अफ्रीका के शासक दल अफ़्रीकी नेशनल कांग्रेस (एएनसी) ने बुधवार को इजरायल में अपने दूतावास में एक संपर्क कार्यालय को बंद करने का फैसला लिया है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

वफ़ा न्यूज़ एजेंसी की रिपोर्ट के अनुसार यह फैसला सीधे तौर पर यू.एस. राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के निर्णय के जवाब में किया गया. जो यरूशलेम को इजरायल की राजधानी मानते हैं.

एएनसी ने अपने बयान में कहा कि फ़िलिस्तीन पीड़ित लोगों के समर्थन को हमारी व्यावहारिक अभिव्यक्ति देने के लिए,  सरकार को इज़राइल में दक्षिण अफ्रीका के दूतावास के एक संपर्क कार्यालय में डाउनग्रेड करने का निर्देश देने का संकल्प लिया है.

एएनसी ने कहा कि हमारा ये कदम “इसराइल के लिए स्पष्ट संदेश होगा कि यह मानवाधिकारों के दुरुपयोग और अंतर्राष्ट्रीय कानून के उल्लंघन के लिए भुगतान करने की कीमत है.

दक्षिण अफ्रीका में फिलिस्तीन के राजदूत हाशिम दाजानी ने इस फैसले का स्वागत करते हुए कहा कि यह एक महत्वपूर्ण निर्णय है. उन्होंने कहा, दक्षिण अफ्रीका की अगुवाई अन्य अंतरराष्ट्रीय शक्तियों को यह करने के लिए प्रोत्साहित करेगी.