ईरान ने अपने शीर्ष कमांडर कासिम सुलेमानी की 3 जनवरी की को अमेरिका द्वारा की गई हत्या के मामले को हेग में अंतर्राष्ट्रीय अपराध न्यायालय (ICC) में चुनौती देने का इरादा किया है। जिसमे अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प को आरोपी बनाया जा सकता है।

पिछले हफ्ते एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान ईरान के न्यायपालिका के प्रवक्ता, गुलाम हुसैनी ने कहा, हम इस्लामिक रिपब्लिक, इराक और हेग कोर्ट [इंटरनेशनल कोर्ट ऑफ जस्टिस] में अमेरिका की सेना और ट्रम्प के खिलाफ मुकदमा दायर करने का इरादा रखते हैं,”

उन्होने कहा, “इसमें कोई संदेह नहीं है कि अमेरिकी सेना ने गार्ड कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल सोलेमानी और इराक की लोकप्रिय मोबलाइजेशन यूनिट्स (पीएमयू) के अबू महदी अल-मुहादीस की हत्या कर आतंकवादी कार्य किया है।

हालांकि हत्या के बाद से, ईरान के नेतृत्व ने अपने सबसे बड़े सैन्य नायकों में से एक को गैरकानूनी हत्या के रूप में वर्णित करने के लिए राजनीतिक, सैन्य और कानूनी बदला लिया है। सुलेमानी की हत्या के लगभग एक हफ्ते बाद बदला लेने की पहली कार्रवाई अमेरिकी ऐन अल-असद एयरबेस पर रॉकेट हमले से की गई।

ईरान से शुरू में “इस्लामिक दंड संहिता के तहत” मुकदमा दायर करने की उम्मीद है, जिसके बाद इराक और हेग कोर्ट में एक समान मुकदमा दायर किया जाएगा।

Loading...
लड़के/लड़कियों के फोटो देखकर पसंद करें फिर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

 

विज्ञापन