Thursday, October 21, 2021

 

 

 

इन दो मुस्लिम उपदेशकों पर लगा सिंगापुर में घुसने पर प्रतिबन्ध

- Advertisement -
- Advertisement -

preacheer

सिंगापुर सरकार ने सोमवार को कहा है की उन्होंने दो विदेशी मुस्लिम प्रचारकों पर प्रतिबंध लगा दिया है, क्योंकि उनके विचार असहिष्णुता फैला रहे थे, और सामाजिक सामंजस्य के लिए खतरा थे.

स्थानीय मीडिया के मुताबिक जिम्बाबे के इस्माइल मेंक और हस्लिन बिन बहरिम जो की मलेशियन हैं उन पर सिंगापुर के अधिकारियों ने विचारों के द्वारा विभाजनकारी नीतियाँ फैलाने काआरोप लगाते हुए उन्हें सिंगापूर में घुसने पर प्रतिबन्ध लगा दिया है.

सिंगापुर के गृह मंत्रालय ने एक बयान में कहा है मेंक ने प्रचार किया है की मुसलमानों को उनके त्योहारों पर अन्य धर्मो के लोगों को बधाई देने की अनुमति नहीं है. बेहरिम के विचार मुसलमानों और गैर-मुसलमानों के बीच विवाद को बढ़ावा देते हैं.

सिंगापुर में अधिकतर चीनी रहते हैं जिनमे से कई बौद्ध धर्म तो कई अन्य धर्मों के हैं, लेकिन इनमे 14% आबादी मुसलमानों की व 19% आबादी ईसाईयों की है.

पिछले कुछ सालों में क्षेत्र में दास के प्रसार के बारे में चिंता बढ़ने के कारण सिंगापुर ने चरमपंथी कट्टरवाद के लिए निगरानी के अपने स्तर में वृद्धि की.

सरकार ने कहा की मेन्क और बहारिम ने अगले महीने सिंगापुर से प्रस्थान करने वाले जहाज पर धार्मिक सत्र आयोजित करने की योजना बनाई थी, जिसके बाद सिंगापुर में प्रचार करने के लिए अल्पकालिक कार्य के लिए उनके आवेदन रद्द किए गए थे.

पिछले महीने अधिकारियों ने कहा कि उन्होंने सिंगापुर में बोलने के लिए दो विदेशी ईसाई प्रचारकों के लिए आवेदन को खारिज कर दिया क्योंकि उन्होंने “अन्य धर्मों की निंदा और भड़काऊ टिप्पणी” की थी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles