Wednesday, September 22, 2021

 

 

 

शिवसेना ने कहा, पाकिस्तान से आतंकवाद और वार्ता साथ-साथ संभव नहीं

- Advertisement -
- Advertisement -

मुंबई: शिवसेना ने पठानकोट में पाकिस्तानी आतंकवादियों द्वारा किए गए आतंकवादी हमले की निंदा करते हुए शनिवार को कहा कि ‘आतंकवाद और शांतिवार्ता साथ-साथ नहीं चल सकती।’ शिवसेना ने इस बात को लेकर चिंता जताई कि यह हमला प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बिना किसी पूर्व कार्यक्रम के लाहौर यात्रा के सप्ताह भर के भीतर हुआ है।

शिवसेना ने कहा, पाकिस्तान से आतंकवाद और वार्ता साथ-साथ संभव नहींहमला कहां से हुआ, बताने की जरूरत नहीं
शिवसेना प्रवक्ता संजय राउत ने यहां कहा, ‘जब भी हमारे ऊपर कोई हमला होता है, यह कहने की जरूरत नहीं कि उसके पीछे कौन है। हम आंख बंद करके भी कह सकते हैं कि हमलावर पाकिस्तान से हैं।’ तड़के हुए हमले में भारी हथियारों से लैस पाकिस्तानी आतंकवादियों ने पंजाब के पठानकोट स्थित वायुसेना स्टेशन पर हमला किया। इन आतंकवादियों के जैश ए मोहम्मद संगठन से जुड़े होने का संदेह है। इसके बाद हुई मुठभेड़ में चार हमलावर मारे गए और तीन सुरक्षाकर्मी शहीद हो गए।

मोदी की पाकिस्तान यात्रा के बाद हमला
राउत ने कहा कि यह हमला पिछले सप्ताह बिना किसी पूर्व कार्यक्रम के प्रधानमंत्री के लाहौर में रुकने के बाद हुआ है। उन्होंने कहा, ‘हम राजनीति नहीं करना चाहते लेकिन यह तथ्य है कि द्विपक्षीय शांतिवार्ता और आतंकवादी हमले साथ-साथ हो रहे हैं। यह नहीं चलेगा।’ उन्होंने कहा कि शांति वार्ता और आतंकवाद साथ-साथ नहीं चल सकते और यह शिवसेना का शुरू से ही रुख रहा है। शिवसेना भाजपा की प्रमुख सहयोगी पार्टी के साथ ही केंद्र की राजग सरकार का हिस्सा भी है।

मुंहतोड़ जवाब कब देंगे गृह मंत्री?
राउत ने सवाल किया, ‘केवल यह कहना पर्याप्त नहीं कि ऐसे हमलों पर भारत की ओर से मुंहतोड़ जवाब दिया जाएगा। केंद्रीय गृह मंत्री एक गंभीर व्यक्ति हैं और हम उनका सम्मान करते हैं। लेकिन हम पाकिस्तान को मुंहतोड़ जवाब कब देंगे?’ राउत की यह टिप्पणी गृह मंत्री के उस बयान के मद्देनजर आई है जिसमें उन्होंने कहा था कि भारत की धरती पर यदि कोई आतंकवादी हमला हुआ तो वह करारा जवाब देगा। साभार: ndtv.com

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles