Tuesday, December 7, 2021

70 लाख यमनी नागरिक भूख से मरने की कगार पर: संयुक्त राष्ट्र

- Advertisement -
यमन संकट किसी रूप से समाप्त होने मे नहीं आ रहा और यमेनी जनता अकाल ज़दगी का शिकार हो चली हैं, जिस से बड़े पैमाने पर जान जाने की आशंका पैदा हो गई है। अगर ऐसा होता है तो यह मानव द्वारा पैदा किए गए कुछ बड़े संकट में एक होगा जिसमें लाखों जानें चली जाएंगी।

टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार यमन में संयुक्त राष्ट्र विकास विभाग के प्रमुख ओक लोटसमा (Auke Lootsma) का कहना है कि “यमन की 2 करोड़ 70 लाख जनसंख्या का 70 प्रतिशत भाग गंभीर संकट से जूझ रहा है जिसे त्वरित सहायता की जरूरत है। इनमें से 70 लाख अकाल और भुखमरी के चरम खतरे से ग्रस्थ हैं। ”

यमन की राजधानी सनआ से वीडियो सम्मेलन के माध्यम से पत्रकारों से बातचीत करते हुए ओक लोटसमा ने कहा कि “मुझे निकट भविष्य में सितम्बर 2014 मे शुरू होने वाली यमन की लड़ाई का अंत नज़र नहीं आ रहा है।

उन्होने कहा कि ऐसा प्रतीत होता है कि यह लडाई और कई साल चलेगी। “संयुक्त राष्ट्र रिकॉर्ड के अनुसार यमन में पिछले 4 महीनों में हैजा के 4 लाख मामले सामने आ चुके हैं और 1900 लोगों की मौत हो चुकी है। पिछले दो सप्ताह से देश के कई क्षेत्रों में बड़ी संख्या में शहरी दिमागी बुखार के भी शिकार हो रहे हैं।

- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles