zainab 11 2018016543

पाकिस्तान के पंजाब प्रांत के कसूर शहर में हुए सात साल की लड़की जैनब के बलात्कार एवं हत्या के बहुचर्चित मामले में मुख्य संदिग्ध ने गिरफ्तारी के बाद अपना जुर्म कबूल कर लिया है.

पंजाब प्रांत के मुख्यमंत्री शाहबाज शरीफ ने कहा कि आरोपी ने पॉलीग्राफ टेस्ट के दौरान अपने अपराधों को कबूल किया. 24 वर्षीय आरोपी इमरान अली के संदिग्ध होने का शक डीएनए सबूत से हुआ था, वह कसूर में कई अन्य बच्चों के यौन उत्पीड़न और हत्या में शामिल है.

पंजाब फॉरेन्सिक साइंस एजेंसी के एक प्रतिनिधि ने मीडिया के साथ डीएनए टेस्ट के परिणामों को साझा करते हुए बताया कि यह निश्चित है कि इमरान अली हत्यारा है. पंजाब सरकार के प्रवक्ता मलिक अहमद ने कहा कि अली को पंजाब के पाकपाटन जिले से गिरफ्तार किया गया.

फोरेंसिक विशेषज्ञों ने इस बात की पुष्टि की है कि आरोपी अली का डीएनए सैंपल लड़की के शरीर पर मिले नमूनों से मिल रहा है. साथ ही आरोपी का डीएनए उन सात लड़कियों के शरीर पर मिले नमूनों से भी मिल रहा है जिनके साथ पूर्व में ज्यादती हुई और उसके बाद उनकी हत्या की गयी.

इस दौरान शहबाज ने कहा कि समूचे मुल्क की तरह ही मैं भी इस हिमायत में हूं कि इस शैतान को सार्वजनिक तौर पर फांसी दी जाए लेकिन हमें देखना होगा कि इस बाबत कानून में क्या बदलाव किए जा सकते हैं. मैंने मुख्य न्यायाधीश से मामले को जल्द से जल्द निपटाने की गुजारिश की है ताकि यह सीरियल किलर अपने अंजाम तक पहुंच सके.