बांग्लादेश के वित्त मंत्री एएमए मोहम्मद ने रोहिंग्या मुद्दें पर म्यांमार की आलोचना करते हुए कहा कि म्यांमार ने रोहिंग्या लोगों को भेजकर बांग्लादेश के खिलाफ युद्ध की घोषणा की है.

उन्होंने कहा कि वे लोग अपने देश से लोगों को भेजकर हमारी अर्थव्यवस्था को ख़तरे में डालने की कोशिश कर रहे हैं. इस समय देश में एक आपदा है. यहां, चार लाख से अधिक पड़ोसी देश म्यांमार के शरणार्थियों ने शरण ली है.

वित्त मंत्री ने कहा, इस घटना ने हमारी जीवन को हिला के रख दिया है. उन्होंने म्यांमार से की कि अपने ही देश में रोहिंग्या के अधिकार स्थापित किए जाएं.

ध्यान रहे 25 अगस्त के बाद से शुरू हुए राखिने प्रान्त में म्यांमार सेना के सैन्य अभियान के चलते 450000 से अधिक रोहिंग्याओं का बांग्लादेश पलायन हुआ है.

सयुंक्त राष्ट्र ने म्यांमार के सैन्य अभियान को रोहिंग्या मुस्लिमों के जातीय सफाए की संज्ञा दी है. साथ ही म्यांमार से इसे तुरंत रोके जाने की मांग की है.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?