सांकेतिक फोटो

इराक़ के मूसिल नगर के कई क्षेत्र दाइश के क़ब्ज़े से आज़ाद हो चुके हैं, जिसका एहसास तब अधिक हुआ जब मूसिल के विभिन्न क्षेत्रों के स्कूलों से घंटी की आवाज़ आईं और बच्चे स्कूल की ओर भागते दिखाई दिए।

मूसिल से प्राप्त समाचारों के अनुसार तकफ़ीरी आतंकवादियों के नियंत्रण से आज़ाद हुए मूसिल नगर के 70 स्कूलों को खोल दिया गया है ताकि शिक्षा का सिलसिला शुरू किया जा सके।

इराक़ की शिक्षा एवं मानव संसाधन मंत्रालय ने रविवार को घोषणा की है कि मूसिल नगर के वह क्षेत्र जो दाइश के क़ब्ज़े से स्वतंत्र करा लिए गए हैं उन क्षेत्रों के 70 स्कूलों में शिक्षा का सिलसिला आरंभ कर दिया गया। नैनवां प्रांत की परिषद के सदस्य हिसामुद्दीन अल-एबार ने भी कहा है कि दाइश की आतंकवादी कार्यवाहियों के कारण मूसिल में ढाई वर्षों तक शिक्षा का सिलसिला बंद रहा जिसको एक बार फिर से शुरू कर दिया गया।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

हिसामुद्दीन ने मूसिल के 70 स्कूलों में शिक्षा के आरंभ होने पर इराक़ी सेना और स्वयंसेवी बलों को मुबारकबाद दी और कहा कि बच्चों की पढ़ाई का अरंभ होना अबतक की सबसे और महत्वपूर्ण और बड़ी उपलब्धि है।

ज्ञात रहे कि तकफ़ीरी आतंकवादी गुट दाइश ने मूसिल पर क़ब्ज़ा करने के बाद इस नगर के विभिन्न क्षेत्रों में मौजूद स्कूलों को जेल में बदल दिया था और साथ ही स्कूल में पढ़ने वाले बच्चों को ज़बरदस्ती आतंकी कार्यवाहियों के लिए इस्तेमाल करता था। दाइश के इस घिनौने कार्यों के कारण मूसिल वासियों ने अपने बच्चों को स्कूल भेजना बंद कर दिया था।

याद रहे कि इराक़ी सेना ने गत बुधवार को पूर्वी मूसिल को दाइश के क़ब्ज़े से पूरी तरह आज़ाद करा लिया है।

News Courtesy – parstoday

Loading...