13 साल की उम्र में गिरफ्तार हुए बच्चे को सऊदी अब देगा मौ’त की सज़ा

7:03 pm Published by:-Hindi News

सऊदी अरब में सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन को लेकर गिरफ्तार किए गए महज 13 साल के बच्चे को अब सऊदी हुकूमत मौत की सज़ा देने जा रही है। जिसका दुनिया भर में विरोध शुरू हो गया।

बता दें कि साल 2011 में 10 साल की उम्र में मुर्तजा कुरेरिस ने 30 बच्चों के साथ सरकार के खिलाफ साइकिल रैली निकाली थी। ये वो समय था जब अरब स्प्रिंग अपने चरम पर था। वो साइकिल पर बैठकर बोल रहा था, “लोग मानवाधिकारों की मांग कर रहे हैं।”

इस घटना के तीन साल बाद उसे गिरफ्तार कर लिया गया। उस समय वह अपने परिवार के साथ बेहराइन की ओर जा रहा था। तभी सऊदी की सीमा पर उसे हिरासत में ले लिया गया। उस समय मुर्तजा को वकीलों और कार्यकर्ताओं ने सऊदी की जेल में कैद सबसे युवा राजनीतिक कैदी बताया था।

सीएनएन के मुताबिक 18 साल के मुर्तजा ने खुद पर लगे आरोपों से इनकार किया है। यही नहीं उसने दावा किया है कि उसने दबाव के चलते आरोपों को स्वीकार किया है। मुर्तजा पर आरोप है कि उसने अपने कार्यकर्ता भाई अली कुरेरिस का उस वक्त साथ दिया था, जब उसने मोटरसाइकिल पर सवार होकर स्वामिया शहर स्थित पुलिस स्टेशन पर कथित तौर पर कॉकटेल फेंका था। मुर्तजा पर विरोध प्रदर्शन के दौरान हिंसा भड़काने का आरोप है।

एमनेस्टी इंटरनैशनल ने कहा कि सऊदी अरब के पब्लिक प्रॉसिक्युटर ने मुर्तजा को फांसी दिए जाने की मांग की है। यह सजा उसे कथित तौर पर उन अपराधों के लिए दी जाएगी, जो उसने महज 10 वर्ष की आयु में किए थे। एमनेस्टी के मुताबिक पूछताछ के दौरान युवक की बुरी तरह से पिटाई की गई थी। द इंडिपेंडेंट के मुताबिक मुर्तजा सऊदी अरब के अल्पसंख्यक शिया समुदाय से ताल्लुक रखता है।

Loading...