Bashyer Al-Rashidi who suffers from cirrhosis of the liver was saved after Saudi nurse Abir Al-Anzi donated a part of her liver to her. — Courtesy photo
Bashyer Al-Rashidi who suffers from cirrhosis of the liver was saved after Saudi nurse Abir Al-Anzi donated a part of her liver to her. — Courtesy photo

बशीर अल राशिदी जो कि लीवर से सबंधित सिरोसिस नामक एक गंभीर पीड़ित बच्चा हैं. जिसकी जान सऊदी नर्स अबीर अल अंजी ने अपने लीवर का हिस्सा देकर बचाई हैं.

ये लीवर प्रत्यारोपण 28 दिसम्बर 2016 को किया गया, जो पूरी तरह से सफल रहा. 20 वर्षीय अबीर अल अंजी ने कहा कि वह बशीर को नहीं जानती थी. बशीर के बारे में उन्हें ट्विटर के जरिए पता चला. जिसमे उन्हें जानकारी हुई कि वह रियाद में प्रिंस सुल्तान मेडिकल सिटी में भर्ती हैं, और उसकी जान बचाने के लिए एक डोनर की जरूरत हैं.

अबीर अल अंजी ने इसके बाद बशीर के पिता से संपर्क किया और डोनर बनने की ख्वाहिश जाहिर की. उन्होंने सबसे पहले अपने मेडिकल टेस्ट कराया आर उनके लीवर के हिस्सें को दान करने का फैसला किया. उन्हें आईसीयू से छुट्टी दे दी गई है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

एक स्वास्थ्य अधिकारी ने बताया कि अब मंगलवार को जवफ़ शहर में अबीर अल अंजी को सम्मानित करने के लिए एक कार्यक्रम आयोजित किया जायेगा. सऊदी अरब के स्वास्थ्य मंत्री ने इसे मानवीय कार्य का बेहतरीन उदाहरण बताया.

Loading...