जेद्दाह: सऊदी विदेश मंत्री आदेल अल-जुबेर ने सोमवार को कहा कि क़तर संकट का समाधान सिर्फ दोहा के हाथों में है.

संयुक्त राष्ट्र महासभा में संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो जीटरस के साथ बैठक के बाद उन्होंने कहा, कतर की आतंकवाद का समर्थन रोकने और क्षेत्र के अन्य देशों के आंतरिक मामलों में हस्तक्षेप करने की विफलता क़तर संकट था.

ध्यान रहे दोहा पर आतंकवादी संगठनों को वित्तपोषण करने का आरोप लगाते हुए सऊदी अरब, बहरीन, मिस्र और संयुक्त अरब अमीरात ने 5 जून को कतर के साथ कूटनीतिक और व्यापारिक संबंधों को तोड़ दिया था. इसके बाद कुवैत के आमिर द्वारा मध्यस्थता का प्रयास किया गया, जो अब तक असफल रहा,

सऊदी विदेश मंत्री ने कहा कि दोहा ने आतंकवाद विरोधी चारो देशों के समूह को गुमराह किया और यहां तक कि ईरान के साथ पूर्ण राजनयिक संबंधों को बहाल किया, जिस पर ग़ैर सहकारिता परिषद (जीसीसी) ने अराजकता भड़काने का आरोप लगाया था.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

सोमवार को बैठक में, अल-जुबेर और गेटरर्स ने यमन, सीरिया, इराक और म्यांमार में हालिया घटनाओं पर चर्चा की.
उन्होंने संयुक्त राष्ट्र और सऊदी अरब के बीच घनिष्ठ सम्बन्धों पर भी चर्चा की.

Loading...