Friday, June 18, 2021

 

 

 

रमजान के चांद को लेकर सऊदी अरब ने की बड़ी घोषणा, इस दिन होगा पहला रोजा

- Advertisement -
- Advertisement -

रियाद के पास हवत सूद में  स्थित अल मजमा विश्वविद्यालय ने 1442 हिजरी के रमजान के महीने के चांद के दिखने की वैज्ञानिक परिस्थितियों पर एक बयान जारी किया है। जिसके अनुसार सऊदी अरब में 29 शाबान को ही रमजान का चांद दिख सकता है।

वेधशाला में खगोलविदों ने कहा कि अगले रविवार 11 अप्रैल, 2021 के लिए चंद्रमा के दर्शन का निर्धारण करने के लिए की गई वैज्ञानिक गणना शाबान 29 से मेल खाती है। ऐसे में चांद सूरज डूबने से पहले ही दिखाई देगा। जिसके कारण यह नग्न आंखों से नहीं देखा जा सकेगा।

ऑब्जर्वेटरी के बयान में बताया गया है कि 12 अप्रैल को शाम को चांद को पूरी तरह से दिखने की उम्मीद है, जो शाबान 30 की इस्लामी तारीख से मेल खाती है। सूर्य शाम 6.38 बजे मक्का में स्थापित होगा और अर्धचंद्रा 7.01 बजे उदय होगा, “जिसका अर्थ है कि अर्धचंद्राकार सूर्यास्त के 22 मिनट बाद 4.75 डिग्री की ऊंचाई पर बनेगा।”

उल्लेखनीय है कि इस्लाम धर्म के सबसे पवित्र महीने की शुरुआत चांद देखकर ही होती है। चांद दिखने के बाद ही रमजान के रोजे रखे जाते है और तरावीह की नमाज अदा की जाती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles