jube

jube

सऊदी विदेश मंत्री अदेल अल-जुबेइर ने यमन में अपनी सक्रिय सैन्य उपस्थिति के कारण सऊदी अरब को हथियारों के निर्यात को रोकने के जर्मनी के फैसले की आलोचना की है.

जर्मन समाचार एजेंसी डीपीए के साथ एक साक्षात्कार में उन्होंने कहा, जर्मनी को सऊदी अरब के लिए हथियारों की आपूर्ति करने में कोई समस्या है तो हम जर्मनी पर दबाव नहीं डालेंगे. हमे उनके हथियारों की जरूरत नहीं है. हम कहीं और से हथियार हासिल कर लेंगे.

ध्यान रहे चांसलर एंजेला मार्केल की सरकार ने पिछले महीने घोषणा की थी कि यह यमन संघर्ष में शामिल सभी दलों को हथियारों के निर्यात को मंजूरी देना बंद करेगा.

अल-जुबेईर ने हथियारों की बिक्री पर एक “असंगत” नीति अपनाने के लिए जर्मन सरकार की आलोचना की. साथ ही सवाल किया, “क्या जर्मनी भी सीरिया और इराक में दास के खिलाफ लड़ रहे राज्यों को हथियारों की आपूर्ति रोकना बंद कर देगा? क्या अफगानिस्तान में तालिबान से लड़ रहे सभी देशों को जर्मनी ने हथियार निर्यात रोकें?”

उन्होंने कहा, सऊदी अगुआ गठबंधन ने यमन में वैध रूप से यमन की वैध सरकार द्वारा आमंत्रण के बाद हस्तक्षेप किया है, जिसका हुथियो के तख्तापलट का सामना किया था. उन्होंने कहा, “यमन युद्ध एक वैध युद्ध है.”

कोहराम न्यूज़ को सुचारू रूप से चलाने के लिए मदद की ज़रूरत है, डोनेशन देकर मदद करें




Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें