सऊदी अरब, संयुक्त अरब अमीरात और बहरीन ने कहा है कि वे इस महीने कतर में एक क्षेत्रीय फुटबॉल टूर्नामेंट में प्रतिस्पर्धा करेंगे। बावजूद इसके कि इन तीनों देशों ने दोहा का बहिष्कार किया हुआ है।

मिस्र के साथ तीनों देशों ने 2017 में मध्य खाड़ी के साथी कतर के साथ राजनीतिक, व्यापार और परिवहन संबंधों को खत्म कर दिया था। दोहा का आरोप था कि देशों का उद्देश्य उसकी संप्रभुता पर प्रभाव डालना था।

हालांकि इस दौरान कुवैत ने मध्यस्थता की कोशिश की। लेकिन पश्चिमी-सहयोगी ने खाड़ी सहयोग परिषद (जीसीसी) को चकनाचूर कर दिया। जिसमें ओमान भी शामिल है। दरअसल, संयुक्त राज्य अमेरिका ने विवाद को ईरान को रोकने के प्रयासों के लिए खतरे के रूप में देखा है और एक एकजुट खाड़ी मोर्चे को धकेल दिया।

qatar emir

रातोंरात प्रकाशित अलग-अलग बयानों में, सऊदी, यूएई और बहरीन फुटबॉल संघों ने घोषणा की कि वे द्विवार्षिक खाड़ी राष्ट्र कप में शामिल होंगे, जो 24 नवंबर से शुरू होगा। तीन देशों ने पिछले टूर्नामेंट के लिए दो साल पहले कतरी राजधानी में ड्रॉ में भाग नहीं लिया था और उसके बाद ही टूर्नामेंट को कुवैत में स्थानांतरित किया गया था।

गल्फ कप मेजबान घूमती रहती है और इसमें आमतौर पर ओमान, यूएई, सऊदी अरब, बहरीन, कतर और कुवैत के साथ-साथ गैर-जीसीसी यमन और इराक शामिल होते हैं। ओमान मौजूदा चैंपियन हैं।

Loading...
लड़के/लड़कियों के फोटो देखकर पसंद करें फिर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

 

विज्ञापन